गोरखपुर, जेएनएन। खजनी में पुरसापुर गाव के सहसपुर उर्फ कुंवरजोत टोला में मकान पर कब्जा करने को लेकर शुक्रवार की शाम जमकर मारपीट हो गई। दोनों पक्ष के लोगों ने धारदार हथियार व कुल्हाड़ी से एक-दूसरे पर हमला कर दिया। इसमें एक पक्ष के पति-पत्नी की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि दूसरे पक्ष के घायल एक अन्य व्यक्ति ने जिला अस्पताल में दम तोड़ दिया। गांव में तनाव को देखते हुए पुलिस और पीएसी तैनात कर दी गई है। दोनों पक्ष के दस लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

गांव के 65 वर्षीय दुर्गा सिंह और गांव के कोटेदार 45 वर्षीय मुंशी उर्फ मनोहर यादव के बीच एक मकान को लेकर विवाद चल रहा था। रांची में रहने वाले दुर्गा के भाई पारस सिंह व दुलारे सिंह ने कुछ साल पहले अपने हिस्से की जमीन नौ लाख रुपये में मुंशी यादव को बेच दी थी। कुछ दिन बाद मुंशी ने गांव में स्थित पारस सिंह और दुर्गा सिंह दोनों के पुस्तैनी मकान में जबरिया ताला बंद करते हुए कहा कि जब उनकी पूरी जमीन खरीद ली है तो मकान भी मेरा है। दुर्गा सिंह के विरोध करने पर इसे लेकर पंचायत भी हुई, लेकिन मुंशी ने ताला नहीं खोला। शुक्रवार की शाम दुर्गा सिंह ताला खोल रहे थे। आरोप है कि जानकारी होने पर मुंशी यादव अपने सहयोगियों के साथ हथियार लेकर पहुंचा। दुर्गा सिंह की पिटाई करने के बाद धारदार हथियार से हमला कर दिया। दुर्गा की पत्‍‌नी 60 वर्षीय कमलावती बीच-बचाव करने पहुंची तो उनके ऊपर भी हमला कर दिया। दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। जिसके बाद नाराज गांव के लोगों ने मुंशी पर हमला कर दिया। गंभीर हाल में पुलिस उसे जिला अस्पताल ले गई, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद गांव में अफरा-तफरी मच गई। एसएसपी, एसपी साउथ और सीओ खजनी आसपास के थानो की फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए।

इस संबंध में एसएसपी डॉ. सुनील गुप्ता का कहना है कि एहतियात के तौर पर गांव में पीएसी तैनात कर दी गई है। घटना में शामिल लोगों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस दबिश दे रही है। दोनों पक्ष के 10 लोग हिरासत में लिए गए हैं।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021