गोरखपुर, जेएनएन। स्वच्‍छ भारत मिशन ग्रामीण के तहत जिले को शौचालयों के लिए 3.51 करोड़ रुपये मिले हैं। दूसरे चरण के लिए मिले इस बजट से 17 हजार शौचालयों के लिए चिन्हित लाभार्थियों को फायदा मिलेगा। जिलाधिकारी की ओर से अनुमोदन मिलने के बाद पंचायती राज विभाग यह धनराशि ग्राम निधि के खातों में भेज देगा, जहां से लाभार्थियों के खाते में धनराशि भेजी जाएगी।

जिले के 17142 लाभाथी चिह्नित

स्वच्‍छ भारत मिशन ग्रामीण के दूसरे चरण में शौचालयों से वंचित रह गए लोगों को चिन्हित करने के लिए पंचायती राज विभाग की ओर से सर्वे कराया गया था। जिले में करीब 17 हजार 142 लाभार्थी चिन्हित हुए थे। विभाग की ओर से इसकी रिपोर्ट शासन को भेज दी गई थी। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव व कोरोना के कारण शासन से धन जारी नहीं हो पाया था। चुनाव बीत जाने एवं कोरोना का प्रभाव कम होने पर इस कार्य को भी आगे बढ़ाया गया है। इसी क्रम में स्वच्‍छ भारत मिशन ग्रामीण के तहत धनराशि खाते में भेजी जा रही है। धनराशि मिलने के बाद शौचालयों के निर्माण में और तेजी आ सकेगी।

पहली किस्‍त के लिए मिलेंगे छह हजार

जिला पंचायत राज अधिकारी हिमांशु शेखर ठाकुर का कहना है कि शौचालयों के लिए जिले को तीन करोड़ 51 लाख रुपये मिले हैं। इसके लिए चिन्हित लाभार्थियों को छह-छह हजार रुपये की पहली और दूसरी किस्त दी जाएगी। जिलाधिकारी का अनुमोदन मिलने के साथ ही इस रकम को ग्राम निधि के खाते में भेज दिया जाएगा। ग्राम प्रधान एवं ग्राम पंचायत सचिव लाभार्थियों के खाते में शौचालय निर्माण के लिए प्रोत्साहन राशि भेज देंगे। जिन लोगों को शौचालय निर्माण के लिए चिन्हित किया गया है वे जल्द से जल्द अपना निर्माण पूरा कर लें। जिससे शौचालय की जियो टैङ्क्षगग करके धनराशि को खाते में भेजा जा सके।

Edited By: Satish Chand Shukla