गोरखपुर, जेएनएन। Coronavirus Lockdown : दैनिक जागरण के कार्यक्रम 'हैलो डॉक्टर' में कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉ. एके चतुर्वेदी मौजूद थे। लोगों ने उनसे कैंसर के अलावा सर्दी-जुकाम, कोरोना व अन्य बीमारियों के बारे में सवाल पूछे। डॉ. चतुर्वेदी ने सभी को इलाज व बचाव के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि कैंसर के मरीज लॉकडाउन में भी किसी भी अस्पताल में कीमोथेरेपी व सेंकाई करा सकते हैं। ये दोनों इलाज समय पर कराना उचित रहता है।

सवाल- तीन दिन से खांसी आ रही है। - कृष्ण मूरत शुक्ला, विश्वविद्यालय कैंपस

जवाब- सीजनल है। दवा की जरूरत नहीं हैं, गर्म पानी पियें। गर्म पानी में नमक डालकर गलाला करें, ठीक हो जाएगा।

सवाल- दांत में संक्रमण है, दर्द कर रहा है। -शारदा देवी, बिछिया

जवाब- ब्रश से ठीक से दांत साफ करें। गर्म पानी में नमक डालकर गलाला करें। ज्यादा दर्द हो तो दर्द की कोई दवा ले सकती हैं।

सवाल- तीन अप्रैल को अम्मा को चिकित्सक ने कीमोथेरेपी का समय दिया था। क्या बाद में करा सकते हैं? -दिनेश कुमार, देवरिया

जवाब- कीमोथेरेपी समय से होना जरूरी है। लॉकडाउन में भी इसके लिए आप अस्पताल जा सकते हैं। कीमोथेरेपी हो जाएगी।

सवाल- लोको शेड कार्यालय में स्क्रीनिंग होती है, वहां भीड़ हो जाती है। -प्रवीण कुमार तिवारी, मालवीय नगर

जवाब- दूरी बनाए रखें, लोगों को भी समझाएं कि एक-डेढ़ मीटर की दूरी सभी के लिए ठीक है।

सवाल- पत्नी को बे्रस्ट कैंसर है। लखनऊ में ऑपरेशन हुआ था। डॉक्टर ने दो अप्रैल को कीमोथेरेपी के लिए बुलाया था। लॉकडाउन के चलते जा नहीं पाए। क्या गोरखपुर में हो सकता है? -संतोष कुमार जायसवाल, बरडाड़, खजनी

जवाब- बिल्कुल हो सकता है। यहां मेडिकल कॉलेज या अन्य अस्पतालों में आप करा सकते हैं।

सवाल- तीन दिन से पेट साफ नहीं हो रहा है और भूख नहीं लग रही है। -वीके वर्मा, कृष्णा नगर

जवाब- गर्म पानी पीजिए और ज्यादा दिक्कत हो तो पेट साफ करने वाली कोई दवा ले लीजिए।

सवाल- तीन दिन से माताजी के कमर में बहुत ज्यादा दर्द है।  -देवव्रत रावत, मगहर

जवाब- मालिश करिये, मूव लगा दीजिए। कम न हो तो दर्द की दवा दे दीजिए। लॉकडाउन के बाद किसी डॉक्टर को दिखा लीजिएगा।

सवाल- हमेशा गले में कफ बना रहता है। कोरोना के लक्षण तो नहीं। -जितेंद्र कुमार, करीम नगर

जवाब- घबराएं नहीं, कोरोना में सूखी खांसी आती है। गर्म पानी पियें, ठीक हो जाएगा।

सवाल- बेटे बाहर रहते हैं, घर में हम पति-पत्नी हैं। क्या हमें भी एक-डेढ़ मीटर की दूरी बनानी चाहिए। -उर्वशी उपाध्याय, बशारतपुर

जवाब- यदि आप दोनों या कोई एक घर बाहर निकलता है तो दूरी बनाना आवश्यक है। घर में काफी दिन से रह रहे हैं तो कोई जरूरत नहीं।

इसके अलावा दिव्य नगर से लता त्रिपाठी, जगदीशपुर से राजेंद्र पांडेय, मोहद्दीपुर से आशा मिश्रा, बरगदवां से मयंक अग्रवाल, मोगलहा से हरश्चिंद्र मिश्रा, जटेपुर उत्तरी से कमलेश कुमार श्रीवास्तव, शाहपुर से केएम वर्मा, गोपालपुर से रमाशंकर जायसवाल, सहारा इस्टेट से अनुराग राय, बिछिया से जयशंकर मणि, नगवा जैतपुर से शैलेंद्र विश्वकर्मा, खजांची चौक से केसी राजपाल व चौरीचौरा से रजनी देवी ने सवाल पूछे।