गोरखपुर, जागरण संवाददाता : रामगढ़ ताल की सुंदरता पर धब्बा लगाने वाली जलकुंभी को 15 अगस्त से पहले निकाल दिया जाएगा। गोरखपुर विकास प्राधिकरण (जीडीए) एवं जलकुंभी निकालने का अधिकार पाने वाली फर्म के बीच हुए समझौते के अनुसार चार महीने में ताल को साफ करना था, लेकिन जीडीए उपाध्यक्ष प्रेम रंजन सिंह ने ताल साफ करने का काम और तेज करने को कहा। उन्होंने ठीकेदार को बुलाकर मशीन बढ़ाने का निर्देश दिया। ठीकेदार की ओर से भुगतान की मांग करने पर तुरंत उसका भुगतान भी कर दिया गया। ठीकेदार ने भी 15 अगस्त से पहले जलकुंभी साफ करने की बात लिखकर दी है। उपाध्यक्ष ने मौके का निरीक्षण कर काम तेज करने को कहा।

चार पोकलेन लगाई है रामगढ़ ताल के लिए

रामगढ़ ताल में इस समय चार पोकलेन लगाई गई है। अब इसकी संख्या बढ़ाकर 10 की जाएगी। उपाध्यक्ष ने मौके का निरीक्षण करते हुए कहा कि जल्द से जल्द मशीनों की संख्या बढ़ाकर सफाई का काम तेज कर दिया जाए।

गोरखनाथ रोड पर लगेगी अर्नामेंटल लाइट

शहर के सर्किट हाउस रोड एवं गोरखनाथ मंदिर रोड की खूबसूरती को और बढ़ाया जाएगा। सड़क का निरीक्षण करने पहुंचे जीडीए उपाध्यक्ष प्रेम रंजन सिंह ने सड़क पर मेडिकल रोड की तरह की अर्नामेंटल लाइट लगाने का फैसला किया है। इसके लिए खर्च का वहन जीडीए करेगा। इस सड़क के किनारे वाल पेंङ्क्षटग भी कराई जाएगी। उपाध्यक्ष ने कहा कि अर्नामेंटल लाइट लगने व वाल पेंटिंग से सड़क की खूबसूरती बढ़ जाएगी। जीडीए उपाध्यक्ष ने कहा कि गोरखनाथ रोड का निरीक्षण किया गया है, यहां जल्द ही लाइट लगाने का काम शुरू कर दिया जाएगा। निरीक्षण के दौरान सचिव राम सिंह गौतम, मुख्य अभियंता पीपी सिंह आदि मौजूद रहे।

राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद ने किया डीएम का स्वागत

राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद गोरखपुर के तत्वावधान में कर्मचारियों ने दुर्गविजय सिंह के नेतृत्व में नवागत जिलाधिकारी विजय किरण आनंद का स्वागत किया। जिलाधिकारी ने कर्मचारियों की समस्याओं के निराकरण का भरोसा दिया। इस दौरान प्रदेश उपाध्यक्ष डा. बीबी सिंह, डीके सिंह, लैब टेक्नीशियन संघ के जिलाध्यक्ष शेष कुमार चौधरी, फार्मासिस्ट संघ के जिलाध्यक्ष उमेश पांडेय, चकबंदी संघ के मंत्री कृष्णमोहन पांडेय, मंडल मंत्री सिंचाई विभाग रविंद्र नरायन दुबे आदि उपस्थित रहे।

Edited By: Rahul Srivastava