कुशीनगर : जिले में 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों को कोविड-19 के टीके की प्रथम डोज लेने के लिए परेशान होना पड़ रहा है। कोविन पोर्टल की धीमी रफ्तार की वजह से आनलाइन पंजीकरण नहीं हो पा रहा है। वाक इन माध्यम से आन द स्पाट पंजीकरण की व्यवस्था प्रथम डोज के लिए सोमवार को स्थगित होने के कारण लोगों को काफी परेशानी हुई। सिर्फ दूसरी डोज वालों को ही टीका लगाया गया।

टीकाकरण के लिए जिले के चिह्नित 13 केंद्रों पर प्रथम डोज लगवाने के लिए पहुंचे लोगों को यह कह कर लौटा दिया गया कि बिना आनलाइन पंजीकरण के टीका नहीं लगेगा। पहले आरोग्य सेतु के माध्यम से फोटो व आधार के साथ पंजीकरण करें और रजिस्टर्ड मोबाइल व रजिस्ट्रेशन नंबर लाने के बाद ही वैक्सीनेशन होगा।

इंतजार के बाद भी नहीं लगा टीका

जिन लोगों के मोबाइल में आरोग्य सेतु डाउन लोड नहीं था, उन्हें एप डाउन लोड कर घर में किसी से पंजीकरण कराने को कहा गया। नगर के निवासी रमेश प्रसाद, दुर्गेश मद्धेशिया ने कहा कि सर्वर न चलने से पंजीकरण नहीं हुआ। पुरुष एवं नेत्र चिकित्सालय पहुंचने पर कहा गया कि पहले पंजीकरण कराएं और फिर आएं। निखिल कुमार, सर्वेश गुप्ता ने कहा कि दो घंटे प्रयास के बाद भी पंजीकरण नहीं हो सका। बताया कि रजिस्ट्रेशन में सर्वर की स्पीड को लेकर दिक्कत आ रही है। इस वजह से पंजीकरण नहीं हो पा रहा है।

टीके की 1200 डोज उपलब्ध

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा.संजय कुमार गुप्ता ने बताया कि कोल्ड चेन में कुल 1200 डोज ही टीका बचा है, जो मंगलवार तक खत्म हो जाएगा। 10 हजार कोवैक्सीन लाने के लिए वाहन गोरखपुर वाहन भेजा गया है, जो देर रात तक आ जाएगा। सात हजार कोविशील्ड लाने के लिए गाड़ी लखनऊ भेजी गई है, जिसके मंगलवार की सुबह तक पहुंचने की उम्मीद है।

18 अस्पतालों की जगह 13 स्थानों पर हुआ टीकाकरण

डोज कम होने के कारण सोमवार को 18 सीएचसी व पीएचसी में से केवल 13 जगहों पर टीका लगा। डोज आने के बाद आगे की तैयारी होगी।

कोविन पोर्टल पर निर्धारित है 172 स्थान

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने बताया कि कोविन पोर्टल पर 160 से 172 तक स्थान तय है। डोज कम होने के कारण सभी अस्पतालों पर वैक्सीन नहीं लगाई जा पा रही है।

सीएमओ डा. एनपी गुप्ता ने कहा कि वैक्सीन कम होने के कारण सभी केंद्रों पर टीकाकरण नहीं हुआ है। शीघ्र ही 17 हजार डोज आ रही है। सभी केंद्रों पर टीकाकरण की व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी।