गोरखपुर, जागरण संवाददाता : संतकबीर नगर जिले के धर्मसिंहवा क्षेत्र के दो दर्जन गांवों में 48 घंटे से बिजली आपूर्ति ठप है। बीते रविवार देर रात बारिश के साथ तेज हवा चलने के कारण बौरव्यास विद्युत उपकेंद्र के अंतर्गत जमया गांव में बिजली का तार गिर गया था। इससे बिजली आपूर्ति पूरी तरह ठप हो गई थीं। कई बार शिकायत करने के बाद भी स्थिति जस की तस है।

मरम्‍मत के बाद भी नहीं बहाल हो सकी आपूर्ति

बिजलीकर्मियों ने मरम्मत का कार्य शुरू कर दिया, लेकिन देर शाम तक बिजली आपूर्ति लगभग दो दर्जन गांवों में नहीं हो सकी। इस कारण लोगों को पानी व मोबाइल चार्जिंग तक के लिए परेशान होना पड़ा। आटा चक्की आदि की मशीनें दो दिनों से नहीं चल पा रही हैं। धर्मसिंहवा के बेलराई, गौरीराई, रैधरपार, जमया, कठहा, सेवहाचौबे, सेवहा बाबु, मुसहरा, दुबौली, बरघाट, जखिनिया, कसया, मेंहदूपार भुलकी, पुनया, महादेवा नानकार, हकीमराई, धर्मसिंहवा आदि गांवों में 48 घंटे से बिजली आपूर्ति पूरी तरह से ठप है।

कुछ गांवों को सिद्धार्थनगर से मिलती है बिजली

इन गांवों के लोगों ने बताया कि धर्मसिंहवा क्षेत्र के कुछ गांव को सिद्धार्थनगर जनपद तो कुछ गांव को संत कबीर नगर जनपद से बिजली आपूर्ति दी जाती है, जिसके कारण अधिकारियों के पास समय से सूचना पहुंचने के बाद भी शिकायत दूर करने में कोताही बरती जाती है। यह समस्या अक्सर देखने को मिलती है। इस कारण लोगों को बिजली का उचित लाभ नहीं मिल रहा है। ग्रामीणों ने शेड्यूल के अनुसार बिजली नहीं देने का भी आरोप विभाग पर लगाया है। बौरव्यास के अवर अभियंता सन्नी देयोल ने बताया कि बिजली समस्या के निस्तारण के लिए बिजलीकर्मी मरम्मत का कार्य कर रहे है। जल्द ही बिजली आपूर्ति बहाल कर दी जाएगी।

बिजली कटौती से उपभोक्ता परेशान, प्रभावित हो रही दिनचर्या

बघौली ब्लाक क्षेत्र क्षेत्र में बिजली कटौती से उपभोक्ता परेशान हैं। दिन व रात में 15 से 16 बार कटौती से दिनचर्या प्रभावित होने लगी है। उमस भरी गर्मी से जहां लोग परेशान हैं वहीं बिजली न होने से काम काज पर भी बुरा असर पड़ रहा है। निर्धारित शेड्यूल की जगह लोगों को बहुत कम बिजली मिल पा रही है। रात में लोग छत पर रात बिता रहे हैं। नींद पूरी न होने से लोगों में तनाव भी बढ़ने लगा है। क्षेत्र के छड़ना, हरदी, बिहारे, रमापुर, जगदीशपुर आदि गांवों में कटौती ने लोगों को परेशान कर दिया है। क्षेत्र के श्याम बहादुर सिंह, राम नगीना सिंह, दीन दयाल मिश्र, परशुराम आदि ने बिजली की कटौती पर अंकुश लगाने की मांग की है।

Edited By: Rahul Srivastava