गोरखपुर, जागरण संवाददाता। यह पहली बार होगा जब वार्ड नंबर 70 नकहा नंबर एक के तकरीबन 10 हजार नागरिकों की दीपावली पानी के बीच मनेगा। दीपावली का सामान खरीदकर नागरिक टूटी सड़क पर जमे पानी के बीच से गुजरेंगे और फिर घरों में पहुंचकर दीपक जलाएंगे। तीन महीने से ज्यादा समय से जलभराव झेल रहे नागरिक शिकायत करते-करते थक चुके हैं। कहने के लिए पंपिंग सेट लगाया गया है लेकिन पानी इतनी धीमी गति से निकल रहा है कि जलभराव दूर होने में अभी कई हफ्ते लग सकते हैं।

नगर निगम का अंतिम वार्ड है नकहा नंबर एक

नगर निगम के 70 वार्डों में नकहा नंबर एक अंतिम वार्ड है। इसी वार्ड हिंदुस्‍तान उर्वरक एवं रसायन लिमिटेड (एचयूआरएल) का खाद कारखाना भी है। कई वर्ग किलोमीटर में फैले वार्ड में हर जगह दुश्वारी ही दिखती है। अंबेनगरी में जलभराव दूर कराने के लिए क'चे नाले की खोदाई कराई गई थी। यह नाला भर चुका है लेकिन पानी नहीं निकल रहा है।

ऐसे बढ़ी मुश्किल

पार्षद राजेश यादव बताते हैं कि वर्ष 2017 में गोरखपुर विकास प्राधिकरण (जीडीए) ने इलाके को जलभराव से मुक्ति दिलाने के लिए खजांची चौक तक पक्का नाला बनवाया। भविष्य की जरूरतों को देखते हुए नाला ऊंचाई पर बनाया गया। इसके अनुसार नगर निगम की नलियां भी ऊंची होनी चाहिए थीं लेकिन कोई काम नहीं हुआ। इस साल ज्यादा बारिश हुई तो पानी ही नहीं निकल रहा है। वर्तमान में मां अंबे नगरी, गायत्रीपुरम, कौशलपुरम, समय माता स्थान, घोषीपुरवा आदि कालोनियों में जलभराव है।

यह हैं प्रमुख कालोनियां, 20 करोड़ मिले तो सड़क-नाली हो दुरुस्त

हरिद्वारपुरम, मां अंबे नगरी, कौशलपुरम, समय माता स्थान, चमनगंज, नकहा नंबर एक, गायत्रीपुरम, घोषीपुरवा, गणेशपुरम, आनंद विहार आदि। वार्ड नंबर 70 में न सिर्फ जलभराव है वरन सड़कें भी टूट चुकी हैं। वार्ड के कई हिस्सों में नालियों का भी अस्तित्व नहीं है। पार्षद का कहना है कि वार्ड में सड़क तो ऊंची बननी ही चाहिए, नालियों को भी ऊंंचा कराना बहुत जरूरी है। नालियां ऊंची हो जाएंगी तो बारिश या घरों का पानी सीधे खजांची तक जाने वाले नाले में मिल जाएगा।

क्‍या कहते हैं कालोनी के लोग

कालोनी के केके तिवारी कहते हैं कि इतनी अधिक दिक्कत कभी नहीं हुई थी। बारिश में थोड़ी देर पानी रुकता था और निकल जाता था। इस बार तो हद ही हो गई। चद्रशेखर ओझा का कहना है कि तीन महीने से ज्यादा समय से जलभराव है। दिखावे के लिए पंपिंग सेट लगाया गया लेकिन परिणाम सामने है। हर जगह जलभराव है। राधा यादव ने दर्द बयान करते हुए कहा कि इस बार दीपावली पानी के बीच ही मनेगी। कई बार नागरिकों ने धरना दिया, प्रदर्शन किया, अफसरों ने आश्वासन दिया पर हुआ कुछ नहीं। रामदास वर्मा ने पूरे वार्ड में काम कराने की जरूरत बताई।

कमिश्‍नर से दो बार शिकायत कर चुके हैं पार्षद

वार्ड 70 के पार्षद राजेश यादव ने बताया कि कमिश्नर से दो बार मुलाकात कर वार्ड की समस्या रख चुका हूं। उन्होंने कार्रवाई का आश्वासन दिया है। पूरा वार्ड समस्याओं से जूझ रहा है। नागरिक परेशान हैं। जलभराव दूर कराने के साथ ही सड़क व नाली बनवानी जरूरी है।

Edited By: Navneet Prakash Tripathi