गोरखपुर, जेएनएन। कुशीनगर जिले के तरयासुजान थाना क्षेत्र के एक गांव मे शौच करने गई एक किशोरी से दुष्कर्म की नीयत से तीन युवकों ने उसे पकड़ लिया और छेड़छाड़ करने लगे। विरोध करने पर आरोपितों ने मुंह में कपड़ा ठूंस दिया और एक शीशम के पेड़ से बांध दिया। इधर देर होने पर परिजन उसे ढूंढने लगे तो आरोपित उसे छोड़कर फरार हो गए। घटना गुरुवार की रात करीब साढ़े आठ बजे की बताई जा रही है।

सिर्फ छेड़खानी का मुकदमा दर्ज

बालिका की तहरीर पर छेडख़ानी का मामला दर्ज कर पुलिस अग्रिम कार्रवाई में जुट गई है। शुक्रवार को दी गई तहरीर में आरोप लगाया गया है कि वह गांव के उत्तर दिशा में खेत में जा रही थी। वहां पर एक खनन माफिया के पुत्र और उसके दो सहयोगियों ने मिलकर छेडख़ानी की और दुष्कर्म की नीयत से पेड़ मे बांध दिया।

अर्धनग्‍न हालत में मिली किशोरी

इधर नाबालिग के घर वापस नहीं आने पर परिजनों ने खोजबीन की तो पीडि़ता अर्धनग्‍न स्थिति में मौके पर मिली। परिजनों ने 100 नंबर डायल कर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने तीन आरोपितों क्रमश: अनिल चौहान, लोडर ड्राइवर गुलाब व ट्रैक्टर ड्राइवर मुकेश निवासीगण ग्राम पिपरा मिश्र थाना तरयासुजान के विरुद्ध छेडख़ानी का मुकदमा दर्ज कर अग्रिम कार्रवाई में जुट गई। ग्रामीणों का आरोप है कि पुलिस ने घटना को छेडख़ानी का रूप देकर मामले का अल्पीकरण कर दिया। पीड़तिा के नाबालिग होने के बावजूद पाक्सो एक्ट की धारा नहीं लगाया। उन्‍होंने खनन माफिया से पुलिस का सांठगाठ का आरोप लगाया है। 

Posted By: Satish Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस