गोरखपुर, जेएनएन। अभी तक तो रामपुर जनपद की पुलिस द्वारा भैंस ढूंढने का मामला देखा गया था, अब देवरिया जिले की बरहज पुलिस एक महिला की बकरी ढूंढेगी। एएसपी ने बरहज पुलिस को मुकदमा दर्ज कर बकरी बरामद करने का निर्देश दिया है। उधर यातायात नियमों की अनदेखी करने वाले पुलिसकर्मियों की गाड़ी का चालान होगा। एडीजी के जोन के सभी पुलिस कप्तान को चेकिंग के लिए विशेष अभियान चलाने का निर्देश दिया है।पहली पत्‍नी के रहते 14 साल बाद दूसरी शादी कर ली। विवाद के बाद पहली पत्‍नी को उसने तलाक दे दिया और मारपीट कर घर से बाहर निकाल दिया। मनुष्य की स्मृतियां उसकी सबसे बड़ी पूंजी होती है। यदि वे चली गईं तो आदमी जिंदा रहते हुए भी नितांत अकेला हो जाता है। वह परिवार, समाज व अपने पूरे अतीत से कट जाता है। याददाश्त के खो जाने को अल्जाइमर या डिमेंसिया बीमारी कहते हैं। थोड़ी सी सावधानी से स्मृतियों को ताजा व संरक्षित रखा जा सकता है। वनटांगिया गांव पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बाद सांसद रवि किशन भी मेहरबान हो गए हैं। सांसद ने ग्रामीणों के साथ न केवल भोजन किया बल्कि उन्हें अपने हाथ से खाना भी परोस कर खिलाया।

देवरिया पुलिस को मिली बकरी ढूढने की जिम्‍मेदारी

अभी तक तो रामपुर जनपद की पुलिस द्वारा भैंस ढूंढने का मामला देखा गया था, अब देवरिया जिले की बरहज पुलिस एक महिला की बकरी ढूंढेगी। एएसपी ने बरहज पुलिस को मुकदमा दर्ज कर बकरी बरामद करने का निर्देश दिया है। हालांकि देर शाम तक इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं हो सकी थी। बरहज थाना क्षेत्र के ग्राम मोहाव निवासी बेचना देवी बकरी पाल रखी थीं। उनकी बकरी किसी ने चुरा लिया। वह थाने पर गई। वहां पर सुनवाई नहीं हुई तो वह न्याय के लिए शुक्रवार को एसपी कार्यालय पहुंच गई।

अब पुलिस वालों के वाहनों के खिलाफ चलेगा चेकिंग अभियान

यातायात नियमों की अनदेखी करने वाले पुलिसकर्मियों की गाड़ी का चालान होगा। एडीजी जोन ने सभी पुलिस कप्तान को चेकिंग के लिए विशेष अभियान चलाने का निर्देश दिया है। परिक्षेत्र के आइजी व डीआइजी इसकी मॉनीटरिंग करेंगे।

दूसरी शादी करने के बाद पहली पत्‍नी को दिया तलाक

कुशीनगर: जिले के खड्डा थाने के बरवारतनपुर निवासी नियामत ने पहली पत्‍नी के रहते 14 साल बाद दूसरी शादी कर ली। विवाद के बाद पहली पत्‍नी को उसने तलाक दे दिया और मारपीट कर घर से बाहर निकाल दिया। पीडि़ता के बहनोई ने थाने में तहरीर सौंप कार्रवाई की मांग की है।

रहें सावधान, नहीं तो चली जाएगी यादाश्त

मनुष्य की स्मृतियां उसकी सबसे बड़ी पूंजी होती है। यदि वे चली गईं तो आदमी जिंदा रहते हुए भी नितांत अकेला हो जाता है। वह परिवार, समाज व अपने पूरे अतीत से कट जाता है। याददाश्त के खो जाने को अल्जाइमर या डिमेंसिया बीमारी कहते हैं। थोड़ी सी सावधानी से स्मृतियों को ताजा व संरक्षित रखा जा सकता है। इसके लिए समय-समय पर चेकअप कराते रहना अनिवार्य है। यदि शुरुआती दौर में यह बीमारी पता चल जाती है तो उसे नियंत्रित किया जा सकता है, यदि बीमारी बढ़ गई तो नियंत्रण मुश्किल होता है। विश्व अल्जाइमर डे 21 सितंबर को है। जागरण ने वरिष्ठ मानसिक रोग विशेषज्ञों से इस बीमारी के कारण, लक्षण व बचाव पर विस्तार से बात की।

रवि किशन ने सहभोज कार्यक्रम में भोजन परोसा, गीत भी गाया

आजादी के बाद से ही उपेक्षा का दंश झेलने वाले वनटांगिया गांव पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बाद सांसद रवि किशन भी मेहरबान हो गए हैं। सांसद ने ग्रामीणों के साथ न केवल भोजन किया बल्कि उन्हें अपने हाथ से खाना भी परोस कर खिलाया। उत्साहित ग्रामीणों ने सदर सांसद से अपने गांव को गोद लेने का आग्रह किया, जिसके बाद सांसद रवि किशन ने सार्वजनिक रूप से इसकी घोषणा कर दी। खेलो इंडिया योजना के तहत नवयुवक मंगलदल वनटांगिया पुरुष वर्ग के चंदन कनौजिया व महिला वर्ग की शालू चौहान को खेल किट जबकि प्राथमिक विद्यालय के बच्चों को खेल सामग्री का वितरण किया गया।

Posted By: Satish Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप