गोरखपुर, जागरण संवाददाता : दीनदयाल उपाध्याय विश्वविद्यालय में परीक्षा देने आई बीएसएसी (गृह विज्ञान) की छात्रा का शव शनिवार दोपहर गृह विज्ञान विभाग में स्टोर के पास फंदे से लटका मिला। शिक्षकों की सूचना पर फोरेंसिक टीम के साथ पहुंची कैंट पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। विश्वविद्यालय प्रशासन छात्रा के खुदकुशी करने का दावा कर रहा है। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत की वजह स्पष्ट होगी।

बीएससी तृतीय वर्ष की छात्रा थी प्रियंका

शाहपुर के जंगल सालिगराम पोखरा निवासी विनोद की 20 वर्षीय पुत्री प्रियंका गोरखपुर विश्वविद्यालय में बीएससी (गृह विज्ञान) तृतीय वर्ष की छात्रा थी। शनिवार सुबह नौ बजे से दीक्षा भवन में प्रियंका की परीक्षा थी। सुबह 10.30 बजे परीक्षा देकर वह बाहर निकली। दोपहर 12 बजे गृह विज्ञान विभाग के शौचालय की तरफ गई छात्राओं ने स्टोर रूम के पास गैलरी में फंदे से लटका उसका शव देखा। शोर मचाते हुए वह विभागाध्यक्ष दिव्यारानी के पास पहुंची और घटना की जानकारी दी।

विभागाध्‍यक्ष ने चीफ प्राक्‍टर व पुलिस को दी सूचना

विभागाध्यक्ष ने चीफ प्राक्टर व कैंट पुलिस को सूचना दी। एसएसआइ कैंट प्रवींद राय और फाेरेंसिक टीम मौके पर पहुंची तो टेबल पर एक पर्स पड़ा था, जिसमें मिले बीएससी (गृह विज्ञान) तृतीय वर्ष का प्रश्न पत्र, आधार कार्ड, मोबाइल नंबर से पहचान कर सूचना घरवालों को दी गई। छात्रा के पिता विनोद ने पुलिस को बताया कि सुबह बिना भोजन किए ही परीक्षा देने आई थी। घर में सबकुछ ठीक-ठाक था। खुदकुशी की वजह मालूम नहीं है। एसपी सिटी सोनम कुमार ने बताया कि विश्वविद्यालय प्रशासन ने छात्रा के खुदकुशी करने की जानकारी दी है। सभी बिंदुओं पर जांच चल रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत की वजह स्पष्ट होगी।

परीक्षा हाल से 50 मीटर दूर है घटनास्थल

दीक्षा भवन से गृह विज्ञान विभाग की दूरी लगभग 50 मीटर है। परीक्षा देकर निकली छात्रा किस परिस्थिति में और किसके साथ वहां पहुंची, यह किसी को नहीं मालूम। अनुमान लगाया जा रहा है कि विभाग खुला था, शौचालय जाने के बहाने परिसर में दाखिल होने के बाद स्टोर रूम के पास जाकर ट्यूबलाइट लगाने के लिए लगे राड में दुपट्टा बांधकर फंदे से लटक गई होगी। घटनास्थल के पास एक मेज भी था।

Edited By: Rahul Srivastava