गोरखपुर, जागरण संवाददाता। संतकबीर नगर जिले के धनघटा तहसील सभागार में जिम्मेदार अधिकारियों की मौजूदगी में युवक द्वारा जहर पीने के बाद हरकत में आया प्रशासन आनन-फानन में कलेन हरदो पहुंचकर भूमि की पैमाइश की।

एसडीएम के सामने ही युवक ने खा लिया था जहर

काली-जगदीशपुर के जयसिंह का कलेन हरदो में राजनाथ यादव से करीब बीस डिस्मिल भूमि की पैमाइश का मामला लंबित था। जयसिंह ने पक्की पैमाइश के लिए सरकारी फीस जमा कर आदेश भी ले लिया था। इसे लेकर राजस्व कर्मी टाल-मटोल कर रहे थे। पैमाइश कराने की गुहार लेकर जय सिंह 25 नवंबर को दिन के साढ़े बारह बजे उसने एसडीएम के सामने न्याय गुहार लगाने गए थे। सुनवाई न होने पर जान देने की बात कहते हुए जेब से जहर की शीशी निकालकर पी लिया।

सकते में आए अधिकारी

यह देखकर अधिकारियों व कर्मियों के हाथ-पांव फूलने लगे। युवक को अस्पताल में भर्ती करवाने के साथ ही राजस्व कर्मियों ने पैमाइश का कार्य भी आरंभ कर दिया। संयोग अच्छा था कि समय से इलाज आरंभ हो जाने से युवक की हालत में सुधार होने लगा। इसके बाद सभी ने राहत की सांस ली। इससे तहसील प्रशासन की लापरवाही सामने आई है। तहसीलदार रत्नेश तिवारी ने बताया कि प्रकरण की जानकारी नहीं थी। जानकारी मिलने पर उन्होंने खुद मौके पर पहुंचकर पैमाइश का कार्य आरंभ करवाया है। एक दो दिन में भूमि के सीमांकन का कार्य पूरा करवा दिया जाएगा।

टेंपो पलटी, बाल-बाल बचे यात्री

बखिरा थाना क्षेत्र के पड़रिया पुल के पास उस समय एक बड़ा हादसा होते-होते बचा जब एक ट्रक ने एक टेंपो में पीछे से टक्कर मार दी। अनियंत्रित होकर टेंपो एक मोटरसाइकिल से भिड़ गई। हादसे में मोटरसाइकिल चालक बाल-बाल बच गया, लेकिन टेंपो सड़क के किनारे खड्ड में गिर गई। टेंपो चालक समेत चार लोग घायल हो गए। चौकी इंचार्ज दुर्गजोत रमेश कुमार यादव ने मौके पर पहुंचकर घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मेंहदावल पहुंचाया। घायलों की पहचान मोहम्मद रजा निवासी महुआ, सबीना निवासी नन्दौर, रज्जाक व उनकी पत्नी नसीमुन्निशा निवासी दुधारा के रूप में हुई। हालांकि सभी घायलों की स्थित ठीक बताई जा रही है।

Edited By: Navneet Prakash Tripathi