गोरखपुर, जागरण संवाददाता। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने लोगों को कोविड प्रोटोकाल के प्रति जागरूक करना शुरू कर दिया है। सीएमओ व सीना रोग विशेषज्ञ डा. आशुतोष कुमार दूबे ने कहा है कि रेस्पिरेटरी हाइजिन (श्वसन संबंधी स्वच्छता प्रोटोकाल) का ध्यान रखें। सार्वजिनक स्थानों पर खांसते-छींकते समय विशेष सतर्कता बरतें। यदि मास्क नहीं लगाए हैं तो खांसते-छींकते समय टिश्यू पेपर या कुहनी मुंह के पास लगा लें।

खांसने, छींकने के साथ निकलने वाले कण से फैलता है वायरस

उन्होंने कहा कि जब हम खांसते या छींकते हैं तो छोटे-छोटे थूक के कण निकलते हैं, इन्हीं के जरिये वायरस दूसरे व्यक्ति तक पहुंच जाता है। आमतौर पर घर में लोग मास्क नहीं लगाते हैं। यदि वे संक्रमित हैं और बिना नाक या मुंह ढंके खांसते या छींकते हैं तो परिवार के अन्य सदस्यों को संक्रमित कर सकते हैं।

यह भी रखें ध्यान

-बिना हाथ सैनिटाइज किए नाक, आंख व मुंह को न छुएं।

-भीड़ में मास्क लगाकर ही जाएं। शारीरिक दूरी का पालन करें।

-हाथों को समय-समय पर धुलते या सैनिटाइज करते रहें।

23127 लोगों को लगाया गया कोरोनारोधी टीका

कोविड टीकाकरण अभियान में रविवार को 245 बूथों पर 23127 लोगों को कोरोनारोधी टीका लगाया गया। जिले में अब तक 35.30 लाख लक्ष्य के सापेक्ष 34.60 लाख लोगों को पहली डोज लगाई जा चुकी है। इसके अलावा 1.56 लाख किशोरों को भी टीका लगाया जा चुका है। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. एके प्रसाद ने बताया कि वैक्सीन की कमी नहीं है। पर्याप्त संख्या में बूथ संचालित किए जा रहे हैं। लोग बूथों पर आएं। सभी को टीका लगाया जाएगा। कोरोना से बचने का यह सबसे सुरक्षित व कारगर उपाय है।

नेताजी की जायंती पर किया रक्तदान

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर रविवार को अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज के तत्वावधान में गायत्री शक्तिपीठ राजघाट में रक्तदान शिविर आयोजित किया गया। दो दर्जन से अधिक लोगों ने जरूरतंदों की जान बचाने के उद्देश्य से रक्तदान किया। इस अवसर पर शांतिकुंज के आचार्य गिरिजेश शास्त्री, शैलेंद्र कुमार, द्वारिका प्रसाद मिश्र, जेबी राय, प्रभाशंकर दूबे, शिवानंद दूबे, गोविंद मिश्रा, पूर्व महापौर डा. सत्या पांडेय, गुरुद्वारा जटाशंकर के प्रधान जसपाल सिंह व दीनानाथ सिंह आदि उपस्थित थे। इसी क्रम में गुरु गोरखनाथ इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल साइंस में निश्शुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। शुभारंभ महायोगी गोरखनाथ विश्वविद्यालय के कुलपति मेजर जनरल अतुल बाजपेई ने किया। 100 से अधिक लोगों के स्वास्थ्य की जांच की गई। इस अवसर पर बृज मोहन शर्मा, डा. सुनील मिश्रा, डा. राजेश पांडेय, डा. अभिनव श्रीवास्तव, डा. अलका वर्मा, डा. विकास, डा. रेनू, डा. सरिता, डा. आदित्य विक्रम सिंह आदि उपस्थित थे।

Edited By: Navneet Prakash Tripathi