गोरखपुर, जागरण टीम। गोरखपुर से अयोध्या तक की फोरलेन सड़क (राष्ट्रीय राजमार्ग) को सिक्सलेन बनाने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार की जा रही है। इसके लिए सर्वे शुरू हो चुका है। पखवारे भर में इसका आकलन कर रिपोर्ट भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआइ) मुख्यालय को भेज दी जाएगी। एनएचएआइ ने ही प्रस्ताव मांगा है, इसलिए इसे स्वीकृति मिलनी तय है।

सिक्सलेन की बनेगी सड़क

गोरखपुर में कालेसर से लेकर लखनऊ तक सड़क सिक्सलेन बनेगी। इसमें अयोध्या तक सड़क बनाने की जिम्मेदारी एनएचएआइ गोरखपुर को मिली है। अब जिला मुख्यालय से लेकर लखनऊ तक की राह और आसान हो जाएगी। ट्रैफिक लोड 24 घंटे में 40 हजार पैसेंजर कार यूनिट (पीसीयू) से ज्यादा मिल चुका है, जो सिक्सलेन के लिए जरूरी मानक है। अब लागत का आकलन किया जा रहा है।

ये भी पढ़ें...

Lucknow Building Collapse: एक महीने पहले शाहिद मंजूर की बेटी ने खाली किया था फ्लैट, 2005 में बेचे थे 10 फ्लैट

मार्च में शुरू होगा जंगल कौड़िया-सोनौली रोड का निर्माण

जंगल कौड़िया-सोनौली रोड को फोरलेन बनाने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। जमीन का अधिग्रहण किया जा रहा है। किसानों का मुआवजा भी एनएचएआइ ने विशेष भूमि अध्याप्ति कार्यालय को उपलब्ध करा दिया है। मार्च से निर्माण शुरू करने की तैयारी है।

ये भी पढ़ें...

Bank Holidays In Agra: जल्दी निपटा लें काम, आगामी सात में दो दिन खुलेंगे बैंक, इन तारीखों को रहेगा अवकाश

तीन सड़कों का टेंडर जारी

पीडब्लूडी के निर्माण खंड-तीन ने तीन सड़कों का टेंडर जारी कर दिया है। 11.6 किमी भटहट-बांसस्थान रोड को फोरलेन बनाने के लिए सरकार ने 689 करोड़ रुपये स्वीकृत किए हैं। 9.5 किमी देवरिया बाईपास को भी फोरलेन बनाया जाएगा, इस पर 399 करोड़ रुपये की लागत आएगी। पैडलेगंज से फिराक चौराहे तक 1.8 किमी सड़क को फोरलेन बनाने के लिए 277 करोड़ रुपये स्वीकृत हो चुके हैं। इन तीनों सड़कों का टेंडर निकाल दिया गया है। मार्च तक काम शुरू होने की उम्मीद है।

गोरखपुर से अयोध्या तक की सड़क को सिक्सलेन बनाने के लिए सर्वे किया जा रहा है। शीघ्र ही डीपीआर तैयार कर मुख्यालय को भेज दी जाएगी। डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट स्वीकृत होते ही निर्माण शुरू करा दिया जाएगा। भावेश अग्रवाल, परियोजना निदेशक, एनएचएआइ 

Edited By: Abhishek Saxena

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट