गोरखपुर, जागरण संवाददाता। गोरखपुर में आम लोगों को जल्द ही बड़े शहरों की तर्ज पर पाइपलाइन से घरों में गैस की आपूर्ति मिलनी शुरू हो जाएगी। टोरंट कंपनी ने गीडा सेक्टर 5 आवासीय कालोनी व खानिमपुर गांव में पाइपलाइन से गैस की आपूर्ति का ट्रायल शुरू की है। अभी केवल 20 घरों में ही आपूर्ति की जा रही है, जिसके सफल होने पर प्रत्येक घरों में आपूर्ति की जाएगी।

टोरंट गैस कंपनी के तरफ से शुरू हुआ घरों में पाइप लाइन से गैस आपूर्ति का ट्रायल

टोरंट गैस कंपनी के तरफ से गोरखपुर में पाइपलाइन से पीएनजी गैस की आपूर्ति घरों तक करने के लिए पाइप लाइन बिछाई जा रही है। कंपनी ने पिपरौली ब्लाक के खानिमपुर गांव में सब स्टेशन स्थापित किया है। कंपनी के नियमों के तहत जहां सब स्टेशन बनाया जाता है, वहां के निवासियों को पहले गैस आपूर्ति की जाती है। आपूर्ति के लिए करीब छह माह पहले ही कंपनी ने खानिमपुर व गीडा सेक्टर पांच आवासीय कालोनी के करीब 500 घरों में पाइपलाइन बिछा कर मीटर भी लगा दिया था।

बीस घरों में शुरू हुआ ट्रायल

ट्रायल शुरू होने के बाद जल्द आपूर्ति की उम्मीद जगी है। खानिमपुर निवासी विपिन स‍िंह ने कहा कि पाइप लाइन से गैस की काफी बचत होगी है साथ ही सिलेंडर भराने से राहत मिल जाएगी। विनय स‍िंह ने कहा कि ट्रायल में शामिल घरों के लोगों व महिलाओं में काफी उत्साह है। टोरंट कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर रजनीश उपाध्याय ने कहा कि करीब 20 घरों में पाइप से आपूर्ति का ट्रायल शुरू हुआ है।

इसी माह शहर की सड़कों पर दौड़ेंगी इलेक्‍ट्रि‍क बसें

गोरखपुर शहर में इलेक्‍ट्रि‍क बसों के चलाने की तैयारी पूरी हो गई है। 26 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी लखनऊ में इलेक्ट्रिक बसों को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। इसके बाद गोरखपुर के लिए निर्धारित 25 में से 20 बसें आ जाएंगी। हालांकि महेसरा में बस डिपो और चार्जिंग स्टेशन का कार्य अभी पूरा नहीं हुआ है फिर भी अफसरों को उम्मीद है कि इसी महीने काम पूरा कर अगले महीने से इलेक्ट्रिक बसों को सड़क पर दौड़ा जाएगा। इलेक्‍ट्रि‍क बसों का रूट व क‍िराया भी तय कर ल‍िया गया है।

Edited By: Pradeep Srivastava