गोरखपुर, जेएनएन। छठ पर्व पर सुरक्षा को लेकर भारी-भरकम बंदोबस्त किया गया है। नगर निगम से चिह्नित प्रमुख घाटों के साथ ही छोटे-बड़े तालाबों पर भी पूजा के दौरान सुरक्षाकर्मी मौजूद रहेंगे। आपात स्थिति से निपटने के लिए घाटों, तालाबों पर एनडीआरएफ और एसडीआरफ की टीम भी तैनात रहेगी। सुरक्षा में बड़ी संख्या में पुलिस व पीएसी के जवान मौजूद रहेंगे। घाटों की तरफ जाने वाले रास्तों पर यातायात व्यवस्था में बदलाव करने की भी तैयारी है। संत कबीर नगर जिले के धनघटा थाना क्षेत्र के जिगना ताल में शनिवार को पशु तस्करों व पुलिस में मुठभेड़ हो गई। इसमें थानाध्‍यक्ष रणधीर मिश्र घायल हो गए। जवाबी कार्रवाई में एक तस्‍कर के पैर में गोली लग गई है। गोरखपुर, जेएनएन। धान की कटाई के साथ पराली जलाने पर लगी रोक का कड़ाई से अनुपालन शुरू हो गया है। प्रमुख सचिव के निर्देश पर मंडलायुक्त ने सभी कंबाइन संचालकों की सूची बनाकर उन्हें स्ट्रा रीपर रखने के निर्देश दिए हैं। गोरखपुर में एक नवंबर से दोपहिया वाहन पर दोनों सवारियों के लिए हेलमेट लगाना अनिवार्य हो गया है। लेकिन गोरखपुर में बाइक पर पीछे बैठने वाले लोगों को 15 दिन की मोहलत मिल गई है। इस दौरान यातायात पुलिस जागरूकता अभियान चलाएगी। इसके बाद नियमों की अनदेखी करने वालों पर कार्रवाई करेगी। गोरखपुर में महापौर के इन्कार और नगर निगम कार्यकारिणी के उपसभापति के विरोध के बाद भी नगर निगम ने पैडलेगंज में वाहन स्टैंड का ठेका दे दिया। यह स्थिति तब है जब मुख्यमंत्री ने हाईवे पर किसी भी सूरत में वाहन स्टैंड न बनाने का सख्‍त आदेश दिया था।

नदी के घाटों की निगरानी अब ड्रोन कैमरे से होगी, सुरक्षा में तीन हजार से अधिक पुलिसकर्मी लगे

गोरखपुर में छठ पर्व पर सुरक्षा को लेकर भारी-भरकम बंदोबस्त किया गया है। नगर निगम से चिह्नित प्रमुख घाटों के साथ ही छोटे-बड़े तालाबों पर भी पूजा के दौरान सुरक्षाकर्मी मौजूद रहेंगे। आपात स्थिति से निपटने के लिए घाटों, तालाबों पर एनडीआरएफ और एसडीआरफ की टीम भी तैनात रहेगी। सुरक्षा में बड़ी संख्या में पुलिस व पीएसी के जवान मौजूद रहेंगे। घाटों की तरफ जाने वाले रास्तों पर यातायात व्यवस्था में बदलाव करने की भी तैयारी है। नगर निगम ने शहरी क्षेत्र में फिलहाल 14 प्रमुख घाटों को चिह्नित किया है। ग्रामीण क्षेत्रों में भी यह त्योहार धूमधाम से मनाया जाता है। नदियों के अलावा करीब-करीब सभी तालाबों, पोखरों में भी बड़ी संख्या में श्रद्धालु छठ पूजा करने पहुंचते हैं।

संत कबीर नगर में पुलिस और पशु तस्‍करों में मुठभेड़

संत कबीर नगर जिले के धनघटा थाना क्षेत्र के जिगना ताल में शनिवार को पशु तस्करों व पुलिस में मुठभेड़ हो गई। इसमें थानाध्‍यक्ष रणधीर मिश्र घायल हो गए। जवाबी कार्रवाई में एक तस्‍कर के पैर में गोली लग गई है। घायल तस्‍कर को दबोच लिया गया है। थानाध्‍यक्ष और पशु तस्‍कर को अस्‍पताल पहुंचा दिया गया है जहां पर इलाज चल रहा है। जानकारी के मुताबिक पशु तस्‍करों के खिलाफ धनघटा पुलिस अभियान चला रही है।

खेत में अवशेष जलाने पर कंबाइन जब्‍त करने की तैयारी, खेत मालिकों से भी होगी वसूली

गोरखपुर, जेएनएन। धान की कटाई के साथ पराली जलाने पर लगी रोक का कड़ाई से अनुपालन शुरू हो गया है। प्रमुख सचिव के निर्देश पर मंडलायुक्त ने सभी कंबाइन संचालकों की सूची बनाकर उन्हें स्ट्रा रीपर रखने के निर्देश दिए हैं। खेत में फसल अवशेष जलाने से होने वाले मृदा क्षरण और प्रदूषण को देखते हुए शासन इसे रोकने को लेकर गंभीर है। राष्ट्रीय हरित अधिकरण के निर्देशों पर प्रमुख सचिव कृषि अमित मोहन ने विभागीय अधिकारियों को कड़ाई से अंकुश लगाने के निर्देश दिए हैं।

हेलेमेट खरीदने के लिए 15 दिन की मोहलत, उसके बाद लगेगा जुर्माना

गोरखपुर में एक नवंबर से दोपहिया वाहन पर दोनों सवारियों के लिए हेलमेट लगाना अनिवार्य हो गया है। लेकिन गोरखपुर में बाइक पर पीछे बैठने वाले लोगों को 15 दिन की मोहलत मिल गई है। इस दौरान यातायात पुलिस जागरूकता अभियान चलाएगी। इसके बाद नियमों की अनदेखी करने वालों पर कार्रवाई करेगी। एक सितंबर से नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू है। चालान किये जाने पर जुर्माना राशि में कई गुना इजाफा हुआ है। चौतरफा विरोध के बाद यातायात पुलिस ने थोड़ी ढील दी थी। परिणाम यह हुआ कि लोग फिर से यातायात नियमों को तोडऩे लगे। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। राज्य सरकार नए मोटर व्हीकल एक्ट को लेकर सख्त हो गई है। एक नवंबर से शुरू हो रहे यातायात माह के दौरान नए मोटर व्हीकल एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी।

चाहे महापौर हों या सीएम, किसी की नहीं सुनता नगर निगम

गोरखपुर में महापौर के इन्कार और नगर निगम कार्यकारिणी के उपसभापति के विरोध के बाद भी नगर निगम ने पैडलेगंज में वाहन स्टैंड का ठेका दे दिया। यह स्थिति तब है जब मुख्यमंत्री ने हाईवे पर किसी भी सूरत में वाहन स्टैंड न बनाने का सख्‍त आदेश दिया था। पिछले महीने महापौर ने टेंडर जारी होने की जानकारी के बाद इसे निरस्त करने की बात कही थी। ठेका उठने के बाद वसूली भी तेज हो गई है।

पैडलेगंज में काफी पहले वाहन स्टैंड होता था। बाद में यह बंद हो गया। इधर, नगर निगम ने एक बार फिर स्टैंड के लिए टेंडर निकाला तो लोग चौंक गए। महापौर सीताराम जायसवाल के संज्ञान में जब यह मामला आया तो उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि टेंडर निरस्त कराया जाएगा। जब मुख्यमंत्री का आदेश है, तो टेंडर ही नहीं निकाला जाना चाहिए था। अब टेंडर निकल गया। 

Posted By: Satish Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस