जागरण संवाददाता, गोरखपुर। मेडिकल कालेज रोड के किनारे के नाले की सही स्थिति की जानकारी लिडार सर्वे करने वाली टीम देगी। नगर निगम प्रशासन ने टीम के सदस्यों से सर्वे की रिपोर्ट मांगी है। सोमवार को सर्वे की रिपोर्ट मिलने के बाद इसे कमिश्नर रवि कुमार एनजी के सामने रखा जाएगा।

नगर निगम के मुख्य अभियंता सुरेश चंद, जल निगम के परियोजना प्रबंधक रतनसेन सिंह और लिडार सर्वे करने वाली टीम के सदस्यों की बैठक हुई। मुख्य अभियंता ने बताया कि टीम से कहा गया कि वह सर्वे के आधार पर बताएं कि मेडिकल कालेज रोड के किनारे का नाला किस तरह बनना चाहिए। साथ ही यह भी बताएं कि वर्तमान में जो नाला बना है वह किस तरह का है। नाले की ढाल और चौड़ाई की भी स्थिति की जानकारी मांगी गई है।

16 लाख रुपये से निकाला जाएगा विष्णुपुरम का पानी

भेडिय़ागढ़ वार्ड के विष्णुपुरम कालोनी का पानी पाइप के जरिये निकाला जाएगा। इस पर 16 लाख रुपये खर्च होंगे। विष्णुपुरम कालोनी का निरीक्षण करने पहुंचे नगर आयुक्त अविनाश सिंह ने कालोनी के नागरिकों के सामने पाइप लाइन के कार्यों को स्वीकृति दी। साथ ही तीन दिनों में काम शुरू करने के निर्देश दिए। भेडिय़ागढ़ के विष्णुपुरम कालोनी में पिछले हफ्ते काफी जलभराव हो गया था। कई घरों में बारिश का पानी घुस गया था। पानी निकालने के लिए नगर निगम प्रशासन न पंपिंग सेट की व्यवस्था की है लेकिन चारों तरह ऊंची जगह होने के कारण दिक्कत हो रही।

पिछले दिनों नगर आयुक्त के निरीक्षण के दौरान पार्षद और नागरिकों ने विष्णुपुरम का पानी मेडिकल कालेज रोड किनारे बने नाले में डालने की मांग की। नगर आयुक्त ने बताया कि कालोनी का पानी निकलकर संपवेल की तरफ चला जाता है लेकिन पानी तेजी से निकालने के लिए नागरिकों और पार्षद से बात के बाद 16 लाख रुपये का इस्टीमेट पास किया गया है। कालोनी में जलभराव दूर करने के स्थायी इंतजाम किए जा रहे हैं।

सिंघडिय़ा में नाले से निकल रही पालीथिन

सिंघडिय़ा के वसुंधरानगर से खोराबार चौक तक नाले की सफाई में भारी मात्रा में पालीथिन, कूड़ा आदि निकल रहा है। नगर निगम की टीम 20 से ज्यादा गाड़ी मलबा निकाला चुकी है। अफसरों का कहना है कि नाले में लोग कूड़ा, पालीथिन आदि फेंक दे रहे हैं इस कारण जलनिकासी में दिक्कत हो रही है।

Edited By: Pradeep Srivastava