गोरखपुर, जागरण संवाददाता। Monthly Season Ticket in NER: पैसेंजर ट्रेनों (सवारी गाड़ी) से यात्रा करने वाले लोकल यात्रियों के लिए राहत भरी खबर है। रेलवे बोर्ड के दिशा-निर्देश पर पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने मासिक सीजन टिकट (एमएसटी) की बिक्री शुरू कर दी है। सोमवार से गोरखपुर से चलने वाली नौ पैसेंजर ट्रेनों के लिए एमएसटी की बुकिंग शुरू हो गई।

दूसरी अनारक्षित पैसेंजर ट्रेनों में भी एमएसटी पर कर सकेंगे यात्रा

मासिक सीजन टिकट सिर्फ पैसेंजर ट्रेनों के लिए ही मान्य होंगे। बुकिंग और रि‍यायत पहले की भांति ही होगी। यात्री निर्धारित रूट पर चलने वाली दूसरी अनारक्षित पैसेंजर ट्रेनों में तो एमएसटी पर यात्रा कर सकेंगे। लेकिन आरक्षित एक्सप्रेस ट्रेनों में एमएसटी मान्य नहीं होगा। एमएसटी के साथ एक्सप्रेस ट्रेनों में पकड़े जाने पर किराए के साथ जुर्माना भी देना पड़ेगा।

अभी तक केवल जनरल ट‍िकट ही बुक हो रहे थे

दरअसल, पैसेंजर ट्रेनों के लिए ही जनरल टिकट बुक हो रहे हैं। एक्सप्रेस ट्रेनों के लिए अभी भी आरक्षित टिकट ही बिक रहे हैं। पिछले साल लॉकडाउन से ही एमएसटी की बुकिंग पर रोक लगी थी। जबकि, अन्य टिकटों की बुकिंग शुरू हो गई थी। स्थानीय लोग परेशान थे।

पूर्व मध्य रेलवे, उत्तर मध्य रेलवे और उत्तर रेलवे ने पिछले माह से ही शुरू कर दी थी बुक‍िंग

जबकि, पूर्व मध्य रेलवे, उत्तर मध्य रेलवे और उत्तर रेलवे प्रशासन ने पिछले माह से ही एमएसटी की बुकिंग शुरू कर दी थी।

इन ट्रेनों के लिए बुक हो रहे एमएसटी

गोरखपुर-छपरा-गोरखपुर, गोरखपुर-नरकटियागंज-गोरखपुर, गोरखपुर-सीवान-गोरखपुर (इस नाम से दो ट्रेन चलती हैं), गोरखपुर-सीतापुर-गोरखपुर, गोरखपुर-पाटलीपुत्र-गोरखपुर, गोरखपुर-गोंडा-गोरखपुर, गोरखपुर-नौतनवा-गोरखपुर और गोरखपुर-बढ़नी-गोरखपुर।

मासिक सीजन टिकट के बारे में यह भी जानें

अधिकतम 150 से 160 किमी तक का बनता है मासिक, त्रमासिक, छमाही व वार्षिक सीजन टिकट।

यात्रियों को किराए में 25 फीसद तक की रियायत मिलती है। रोजाना बुक नहीं करना पड़ा है टिकट।

जन प्रतिनिधियों की पहल पर कामगारों को तो महज 25 रुपये में बन जाता है इज्जत मासिक टिकट।

Edited By: Pradeep Srivastava