बृजेश दुबे, गोरखपुर। पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव की सरगर्मियों के बीच नेताजी सुभाष चंद्र बोस के 125वें जंयती वर्ष को केंद्र सरकार स्मारक सिक्कों के जरिये सहेजेगी। 23 जनवरी को विक्टोरिया मेमोरियल हाल कोलकाता में होने जा रहे कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 125 रुपये मूल्य वर्ग के स्मारक सिक्के का अनावरण करेंगे, जिसपर नेताजी का चित्र अंकित होगा। यह तीसरा अवसर है, जब नेताजी सुभाष चंद्र बोस पर सिक्का जारी होगा।

23 जनवरी को पराक्रम दिवस मनाने की घोषणा

नेताजी की जयंती 23 जनवरी को पराक्रम दिवस के रूप में मनाने की घोषणा करने के दो दिन बाद केंद्र सरकार ने उनपर सिक्का भी जारी करने का फैसला लिया है। यह सिक्के कोलकाता टकसाल में तैयार हो रहे हैैं। इन पर पूर्व से ही काम चल रहा था। सूत्रों का कहना है कि ये सिक्के कुछ समय बाद जारी होने थे, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम और संभावित विधानसभा चुनाव को देखते हुए इसे पराक्रम दिवस पर ही जारी करने का फैसला लिया गया है।

सिक्‍के में 50 फीसद चांदी

सूत्रों के अनुसार इस सिक्के की परिधि 44 मिलीमीटर और वजन 35 ग्राम है। इसमें 50 फीसद चांदी जबकि शेष 50 फीसद में तांबा, जस्ता और निकिल धातु शामिल है। सिक्का 125 रुपये मूल्य वर्ग का होगा लेकिन कभी प्रचलन में नहीं आएगा। सिक्के पर नेताजी के चित्र वाले फलक पर ऊपरी परिधि में हिंदी और निचली परिधि में अंग्रेजी में सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती लिखा होगा। दूसरे फलक पर अशोक स्तंभ के साथ 125 रुपये अंकित होगा। स्मारक सिक्कों के संग्राहक सुधीर लूणावत बताते हैैं कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस पर जारी होने वाला यह तीसरा सिक्का होगा। पहला सिक्का वर्ष 1996 में उनके जन्म शताब्दी वर्ष के उपलक्ष्य में और दूसरा सिक्का पोर्ट ब्लेयर में झंडा फहराने के 75 वर्ष पूरा होने पर दिसंबर 2018 में जारी हुआ था।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप