गोरखपुर, जागरण संवाददाता। रोडवेज की बसों से यात्रा करने वाले लोगों के लिए राहत भरी खबर है। अब सोनौली, दिल्ली, वाराणसी आदि लंबे मार्गों पर ही नहीं महराजगंज, तमकुही, पडरौना और लार आदि लोकल रूटों पर भी बसों की कमी नहीं होगी। गोरखपुर परिक्षेत्र के 15 रूटों पर 31 नई अनुबंधित बसें चलाई जाएंगी। परिवहन निगम ने शासन के दिशा-निर्देश पर नवीन अनुबंधित सेवा के अंतर्गत वातानुकूलित व स्लीपर प्राइवेट बसों के साथ करार की प्रक्रिया शुरू कर दी है। नए साल में लोगों को सोनौली- दिल्ली और गोरखपुर- लार, गोरखपुर-तमकुहीरोड आदि नई अनुबंधित बसों की सुविधा मिलनी शुरू हो जाएगी।

ये होगी नई व्यवस्था

नई व्यवस्था के तहत उत्सर्जन मानक भारत स्टेज- 6 (बीएस-6) वाली दो वर्ष पुरानी बसों को शहरी क्षेत्रों में तथा भारत स्टेज-4 (बीएस- 4) वाली चार साल पुरानी बसों को ग्रामीण क्षेत्रों में चलाई जाएंगी। चालकों की तैनाती और बसों का रखरखाव संचालक करेंगे। परिचालक निगम के होंगे।

यात्रियों की सहूलियत व डग्गामारी पर रोक के लिए की गई व्यवस्था

आमजन की सहूलियत तथा डग्गामारी पर रोक लगाने के उद्देश्य से परिवहन निगम के बेड़े में अब कुल बसों की संख्या के सापेक्ष 75 प्रतिशत अनुबंधित (प्राइवेट) बसें शामिल होंगी। अभी तक निगम के बेड़े में अधिकतम 30 प्रतिशत अनुबंधित बसें शामिल होती रही हैं। गोरखपुर परिक्षेत्र ने भी अपने बेड़े में अनुबंधित बसों की संख्या बढ़ाने की कवायद तेज कर दी है। इसके लिए रूट भी निर्धारित कर दिए गए हैं। प्रथम चरण में 15 रूटों पर 31 अनुबंधित बसों को संचालित करने की तैयारी है। आने वाले दिनों में आवश्यकतानुसार अनुबंधित बसों को संचालित किया जाएगा। गोरखपुर परिक्षेत्र में करीब 755 में से 285 बसें अनुबंधित हैं। लगभग इतनी ही बसें और चलाने की योजना है।

इन निर्धारित 15 रूटों पर चलेंगी 31 अनुबंधित बसें

  • सोनौली- दिल्ली : दो एसी स्लीपर बस
  • सोनौली- वाराणसी: दो एसी स्लीपर बस
  • रमवापुर-हेवती-गोरखपुर: साधारण एक बस
  • सोनियाघाट-गोरखपुर-बस्ती: साधारण एक बस
  • अकारी-गोरखपुर-बस्ती: साधारण एक बस
  • मखौड़ाधाम-हरैया-गोरखपुर: साधारण एक बस
  • गोरखपुर- तमकुहीरोड: साधारण तीन बस
  • गोरखपुर-पडरौना : साधारण पांच बस
  • दुबौली-कसया-तमकुही-गोरखपुर: साधारण एक बस
  • गोरखपुर-ठुठीबारी-महराजगंज: साधारण आठ बस
  • गोरखपुर- लार : साधारण दो बस
  • बड़हलगंज-बरहज-देवरिया-गोरखपुर: साधारण एक बस
  • सोनौली-गोरखपुर : साधारण एक बस
  • नवलपुर चौराहा-सलेमपुर-देवरिया-गोरखपुर: साधारण एक बस
  • टीकरचौक-महराजगंज-गोरखपुर: साधारण एक बस

क्या कहते हैं अधिकारी

परिवहन निगम के क्षेत्रीय प्रबंधक पीके तिवारी ने बताया कि शासन के दिशा- निर्देश पर प्राइवेट बसों को अनुबंध की श्रेणी में लाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। प्रथम चरण में 15 रूटों पर 31 अनुबंधित बसों को चलाने की तैयारी है। जल्द ही प्रक्रिया पूरी कर बसों का संचालन शुरू करा दिया जाएगा।

Edited By: Pragati Chand

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट