गोरखपुर, जेएनएन। गोरखपुर शहर की दो सड़कों को स्मार्ट बनाया जाएगा। स्मार्ट एंड सेफ सिटी में शामिल होने के बाद नगर निगम प्रशासन ने बेतियाहाता से पुलिस लाइन तिराहा और रिजर्व पुलिस लाइंस से रेलवे बस स्टेशन तक की सड़क को स्मार्ट बनाने का निर्णय लिया है। स्मार्ट सड़कों को इस तरह बनाया जाएगा कि केबिल और पानी की पाइप लाइन डालने के लिए इन्हें तोडऩा नहीं पड़ेगा। स्ट्रीट वेंडरों के कारोबार के लिए भी जगह दी जाएगी। दोनों सड़कों को स्मार्ट स्ट्रीट बनाने के लिए सर्वे किया जा चुका है। सर्वे करने वाली एजेंसी एएनबी कंसल्टेंट ने बुधवार को प्रशासनिक व नगर निगम के अफसरों के सामने प्रजेंटेशन दिया। स्मार्ट स्ट्रीट पर 43 करोड़ रुपये खर्च होंगे। चौराहों का सुंदरीकरण भी किया जाएगा।

यह होगी खासियत

  • अंडरग्राउंड डक्ट बनाए जाएंगे। इससे घरों और दुकानों में कनेक्शन देने के लिए बिजली के तार, गैस व वाटर सप्लाई की पाइप के लिए सड़क को काटना नहीं पड़ेगा।
  • शुरू से लेकर अंत तक सड़क की चौड़ाई एक समान होगी
  • ड्रेनेज सिस्टम भी अंडरग्राउंड होगा।

इस तरह हुआ सर्वे

एएनबी कंसल्टेंट ने दोनों सड़कों पर गुजरने वाले वाहन, पाथ वे की स्थिति, सड़कों के किनारे स्ट्रीट वेंडरों की संख्या आदि के आधार पर डाटा तैयार किया।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस