गोरखपुर, जेएनएन। ग्रामीण परिवेश में पली-बढ़ी प्रियंका मिश्रा ने  मिस यूएस वर्ल्‍ड इंटरनेशनल बनने का ख्वाब पूरा कर दिखाया है। वह देवरिया जिले के पुरैनी मिश्र गांव की बहू हैं।

सफलता के पीछे पति का सहयोग

अमेरिका के बहामास आइलैंड पर हुई प्रतियोगिता में दर्जनों प्रतिभागियों को पछाड़कर उनके सिर मिस यूएस वर्ल्‍ड इंटरनेशनल पेजेंट का ताज सजा है। प्रियंका कहती हैं कि इस सफलता के पीछे उनके पति अवनीश मिश्र का सहयोग है।

देवरिया के पिंडी गांव में हुआ था प्रियंका का जन्म

पति के साथ अमेरिका में रह रहीं प्रियंका बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री बिंदेश्वरी दुबे के ओएसडी रह चुके लार क्षेत्र के पिंडी गांव निवासी शिक्षक डा. योगेंद्र पति त्रिपाठी की बेटी हैं।

यहां हुई है शादी

गोरखपुर विश्वविद्यालय से पढ़ाई पूरी करने के बाद उनकी शादी देवरिया जिले के सलेमपुर तहसील क्षेत्र के ग्राम पुरैनी मिश्र में राजेंद्र मिश्र के पुत्र अवनीश मिश्र से हुई। प्रियंका ने एक मल्टीनेशनल बैंक में रिसर्च एनालिस्ट के तौर पर कामकाज शुरू किया। दो बच्‍चों की मां प्रियंका बताती हैं कि उन्होंने मिस वर्ल्‍ड जैसी प्रतियोगिता की तैयारी की और सफलता अर्जित की।

प्रियंका ने अपनी संस्कृति और सभ्यता का झंडा बुलंद करते हुए परिवार एवं पेशेवर जिंदगी के बीच समय प्रबंधन से संतुलन बनाते हुए मिस ऑरेगोन प्रतियोगिता में प्रतिभाग किया। इसके बाद मिस एशिया का खिताब भी जीता और फिर मिस यूएस वर्ल्‍ड इंटरनेशनल पेजेंट तक का सफर तय किया।

Posted By: Satish Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस