गोरखपुर, जागरण संवाददाता। PM Awas Yojana: प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी का लाभ नगर निगम में शामिल 32 गांवों के जरूरतमंदों को भी मिलेगा। जिला नगरीय विकास अभिकरण (डूडा) ने 32 गांवों के 3112 नागरिकों की सूची बनाई है। जांच के लिए सूची प्रशासन को भेजी जाएगी। लेखपाल और सर्वेयर की रिपोर्ट के बाद लाभार्थियों की सूची को अंतिम रूप दिया जाएगा। आवास बनाने के लिए सभी के बैंक खाते में 2.50 लाख रुपये तीन किस्तों में दिए जाएंगे।

बढ़ गया पीएम आवास योजना का दायरा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी का दायरा बढ़ा दिया गया है। 32 गांवों के जरूरतमंदों को लाभ देने के लिए डूडा के अफसर और कर्मचारी लगातार आवेदन जमा कराने में जुटे रहे। अब आवेदन आने के बाद जांच की प्रक्रिया शुरू की जा रही है। डूडा के परियोजना अधिकारी विकास सिंह ने कहा कि नगर निगम में शामिल नए क्षेत्रों के नागरिकों को भी प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ प्राथमिकता के आधार पर दिलाया जाएगा। जल्द से जल्द प्रक्रिया पूरी कराई जाएगी।

31 हजार को दिया जा चुका है आवास

प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के तहत अब तक 31 हजार से ज्यादा नागरिकों को रुपये दिए जा चुके हैं। पहली किस्त मिलने पर नींव और बुनियाद, दूसरी किस्त से दीवार और तीसरी किस्त से छत का निर्माण कराया जाता है। डूडा के साथ ही प्रशासन के अफसर आवास के निर्माण पर नजर रखते हैं।

तीन सर्वेयरों पर हो चुकी है एफआइआर

प्रधानमंत्री आवास योजना के नाम पर वसूली करने वालों के खिलाफ भी लगातार कार्रवाई की जा रही है। गोरखनाथ के सर्वेयर विपुल सिंह और चौरीचौरा के सर्वेयर मो. याकूब व सलमान को न सिर्फ बर्खास्त किया गया वरन तीनों के खिलाफ एफआइआर भी दर्ज करा दी गई है। विपुल सिंह ने महिला से दो किस्त दिलाने के नाम पर 17 हजार रुपये वसूले थे। मो. याकूब और सलमान के खिलाफ भी वसूली की बहुत ज्यादा शिकायतें मिल रही थीं।

Edited By: Pradeep Srivastava