गोरखपुर, जेएनएन। नैक मूल्यांकन की तैयारियों को लेकर दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय प्रशासन एक जून से विभागों को खोलने की तैयारी में है। इस दौरान विभागों में जहां मरम्मत कार्य कराए जाएंगे वहीं नैक टीम के समक्ष होने वाले प्रेजेंटेशन की तैयारी को भी अंतिम रूप दिया जाएगा।

20 जून तक सभी तैयारियां होंगी पूरी 

नैक मूल्यांकन के दृष्टिगत विश्‍वविद्यालय के चार विभागों में एलसीडी टीवी लगना है।  विश्वविद्यालय प्रशासन 20 जून तक सभी तैयारियों को पूर्ण करने में जुटा हुआ है। ताकि नैक के लिए अगला कदम उठाया जा सके।

50 फीसद कर्मचारियों की उपस्थिति अनिवार्य

गोरखपुर विश्‍वविद्यालय के कुलसचिव ने इस आशय का निर्देश जारी कर दिया। निर्देश में साफ-साफ कहा गया है कि विभागों में अध्यक्ष के साथ-साथ 50 फीसद शिक्षकों-कर्मचारियों की उपस्थिति अनिवार्य होगी। उनके निर्देश पर अमल भी हो रहा है।

निरीक्षण कर विभागों में चिह्नित की गई थी कमियां

नैक के मद्देनजर टीम ने विश्वविद्यालय के विभिन्न विभागों का स्थलीय निरीक्षण किया। इस दौरान विभागों में आधारभूत आवश्यकताओं को देखने के साथ-साथ कमियों को शीघ्र दूर करने का निर्देश दिया। निरीक्षण के दौरान दीवारों की मरम्मत, शौचालय, टूटी खिड़कियों, शिक्षक व व्याख्यान कक्ष में भी कमियां चिह्नित की गईं थी।

27 जुलाई को विवि आएगी पीयर टीम

मूल्यांकन के लिए नैक की पीयर टीम 27 जुलाई में गोरखपुर विश्वविद्यालय आएगी। तीन सदस्यीय पीयर टीम 27 से 29 जुलाई तक विश्वविद्यालय के विभिन्न विभागों का निरीक्षण करेगी।

छात्रों ने दिया मार्क, अब नैक की बारी

दीनदयाल उपाध्‍याय गोरखपुर विश्‍वविद्यालय के कुलपति प्रो. विजय कृष्‍ण सिंह का कहना है कि नैक की तैयारियों के मद्देनजर विभागों को खोलने का निर्णय लिया गया है। 20 जून तक हर हाल में तैयारियां पूरी कर लेनी है। छात्रों ने पहले ही 'ए ग्रेड दे दिया है। अब नैक की बारी है। पंद्रह वर्ष बाद होने वाले नैक मूल्यांकन को लेकर विश्वविद्यालय के शिक्षक व छात्र उत्साहित हैं।

Posted By: Satish Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस