कुशीनगर, प्रद्युम्न कुमार शुक्ल। बुजुर्गों की मदद को पुलिस अब हर क्षण तैयार रहेगी। किसी भी तरह की परेशानी आने पर बुजुर्ग सिर्फ 112 नंबर पर मिस्डकाल कर यह सुविधा ले सकेंगे। इसके लिए उन्हें सिर्फ पुलिस में अपना पंजीयन कराना होगा। 112 नंबर डायल कर वह अपना पंजीयन करा सकते हैं। एक बार पंजीयन हो जाने पर आगे से उन्हें सिर्फ 112 नंबर पर मिस्डकाल करना होगा और पुलिस उनकी मदद को तैयार रहेगी। पंजीकृत बुजुर्ग पुलिस की प्राथमिकता में होंगे।

60 वर्ष से अधिक की उम्र के नागरिकों पर रहेगी नजर

पुलिस द्वारा सामुदायिक पुलिसिंग 'सवेरा' के तहत यह पहल की गई है। इसके तहत 60 वर्ष से अधिक की उम्र वाले नागरिकों की शिकायतों का बेहतर तरीके से निराकरण करने के लिए पंजीकरण की प्रक्रिया शुरू की गई है। पंजीकृत नागरिकों द्वारा 112 नंबर डायल करते ही पुलिस को उनसे जुड़ी जानकारी मसलन उनका नाम, मोबाइल नंबर, आवास का पता आदि प्राप्त हो जाएगा। जिस आधार पर पीआरवी टीम उन तक पहुंचकर तत्काल आवश्यक सहायता करेगी। यही नहीं पंजीकृत नागरिकों से पुलिसकर्मी नियमित रूप से मुलाकात कर उनका ध्यान रखेंगे। उनकी समस्याओं का यथासंभव निराकरण भी कराएंगे। सुरक्षा संबंधी आवश्यक सलाह भी देंगे। पुलिस की यह कोशिश बुजुर्गों के जीवन में नया सवेरा लाएगी।

ऐसे भी होगा पंजीयन

बेहतर सुविधा के उद्देश्य से जिले व थाने स्तर पर भी वरिष्ठ नागरिक सेल का गठन किया गया है। थाने स्तर पर गठित सेल में पहुंच कर वरिष्ठ नागरिक अपना पंजीयन करा सकेंगे। सेल में शामिल एसआई व महिला-पुरुष कांस्टेबल थाना क्षेत्र में भ्रमण कर 60 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों से मुलाकत कर उनका नाम, पता व मोबाइल नंबर दर्ज कर सीनियर सीटिजन एप पर यह डाटा फीड करेंगे।

वरिष्ठ नागरिक स्वंय या अपने किसी सहयोगी की मदद से भी 'सवेरा' एप से अपना पंजीकरण करा सकते हैं। इसके अलावे समय-समय पर कैंप आयोजित कर भी पुलिस वरिष्ठ नागरिकों का पंजीकरण करेगी।

वरिष्ठ नागरिकों की मदद के लिए विशेष पहल की गई है। सुरक्षा एवं सहायता के लिए अभियान चलाकर ऐसे लोगों का पंजीयन कराया जाएगा। पंजीकृत नागरिक पुलिस की प्राथमिकता में होंगे। ऐसे लोगों से पुलिस नियमित संपर्क कर उनकी यथासंभव मदद करेगी। - विनोद कुमार मिश्र, एसपी 

Posted By: Pradeep Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस