गोरखपुर, जेएनएन। कुशीनगर के कसया क्षेत्र में गुपचुप ढंग से निकाह किए जाने की सूचना पर पहुंची पुलिस ने आयोजन को रोकते हुए युवक, युवती व निकाल कराने वाले मौलवी को हिरासत में ले लिया। यह खबर पूरे गांव में फैल गई। युवती दूसरे समुदाय की बतायी जा रही है। कहा जा रहा कि युवक-युवती घर से भाग कर यहां आए थे, जहां उनके निकाह की तैयारी थी।

यह है मामला

गांव गुरमिया के खान टोला निवासी एक व्यक्ति के यहां शाम को एक युवक-युवती आए। युवती के हाथ में कलावा बंधा देख लोगों को शंका हुई। थोड़ी ही देर बाद गांव में निकाह कराने वाला मौलवी भी उस व्यक्ति के घर पहुंचा। रात नौ बजे गुपचुप ढंग से निकाह की तैयारी देख अगल-बगल के लोगों ने इसकी सूचना गांव में दी। कुछ ही देर में लोग एकत्रित हो गए। शंका होने पर किसी ने पुलिस को सूचना दे दी। कुछ ही समय में पुलिस आ गई। पुलिस ने मकान मालिक युवक, युवती व मौलवी को पूछताछ के बाद हिरासत में ले लिया और सभी को थाने ले गई। एसपी विनोद कुमार सिंह ने बताया कि युवती ने अपना पता पुरानी बस्ती थाना मुबारकपुर जिला आजमगढ़ बताया है। युवक भी वहीं का निवासी बताया जा रहा। वहां की पुलिस से संपर्क कर जानकारी मांगी गई है।

13 दिन पहले घर से फरार हुई थी युवती

युवती 13 दिन पहले घर से फरार हो गई थी। तलाश के बाद भी उसका सुराग न मिलने पर पिता ने थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई थी। इंटरनेट मीडिया के जरिये उसकी पहचान कसया के गुरमिया निवासी युवक से हुई। बातचीत का सिलिसला शुरू हुआ फिर दोनों के बीच प्रेम हो गया। घर वाले प्रेम में बाधक न बनें इस डर से वह भाग कर अपने प्रेमी से शादी करना चाहती है। फरारी के दौरान दोनों का समय देवरिया व गोरखपुर में बीता। हलांकि कुछ लोग युवक-युवती को एक ही समुदाय का बता रहे हैं। कुशीनगर के एसपी विनोद कुमार सिंह ने बताया कि युवक-युवती बालिग हैं। युवती की गुमशुदगी मुबारकपुर थाने में दर्ज है। युवती के स्वजन अगर शिकायत करते हैं तो पुलिस आगे नियमानुसार कार्रवाई करेगी।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप