गोरखपुर, जागरण संवाददाता। महराजगंज जिले में नेपाल से सटे रेलवे स्टेशन नौतनवा में कंटेनर टर्मिनल बनाए जाने को मंजूरी मिल गई है, संभावना जताई जा रही है कि आगामी सात नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसका आनलाइन शिलान्यास करेंगे। जिसकी तैयारियों को लेकर चार दिसंबर को रेलवे मंडल स्तर के अधिकारी सीनियर इंजीनियर डायरेक्टर गोरखपुर विनीत कुमार व आशुतोष गुप्ता ने स्थलीय निरीक्षण किया गया है। जहां साफ सफाई, पेटिंग, सड़क, पानी आदि के अलावा अन्य कार्यों को दुरुस्त करने के निर्देश दिए है।

नेपाल सामान भेजने में होगी आसानी

अधिकारी सीनियर इंजीनियर डायरेक्टर गोरखपुर ने बताया कि नौतनवा रेलवे स्टेशन परिसर में कानकोर कंपनी द्वारा कंटेनर टर्मिनल बनाया जाएगा। उन्होंने बताया कि कंटेनर टर्मिनल बनाने का मुख्य उद्देश्य समुद्र के रास्ते से आने वाली दवाइयां, कीमती सामान व आटो मोबाइल (कार, ट्रैक्टर व अन्य वाहन) सीधे नौतनवा पहुंचेंगे, यहां से अनलोडिंग कर सामान सड़क मार्ग से नेपाल भेजा जाएगा। जिसके निर्माण के लिए रेलवे आवासों को तोड़कर दूसरी दिशा में नए निर्माण होंगे।

अंडरग्राउंड बनेंगे कर्मचारियों के आवास

सड़क, कंप्यूटर कक्ष, आफिस, लोडिंग व अनलोडिंग प्लेटफार्म बनेगा। जिसमें कर्मचारियों के निवास के लिए अंडरग्राउंड भवन भी प्रस्तावित हैं। इसमें सभी व्यवस्थाएं हाईटेक होगी। सहायक सुरक्षा आयुक्त रेलवे सुरक्षा बल रवि शंकर सिंह ने स्थानीय आरपीएफ पुलिस को शिलान्यास कार्यक्रम को लेकर सुरक्षा व्यवस्था को लेकर निर्देशित किया है। सीनियर सेक्शन अधिकारी श्याम बिहारी, वाणिज्य अधीक्षक पुरुषोत्तम, रेलवे इंस्पेक्टर प्रियांबु प्रिय, चौकी प्रभारी प्रदीप कुमार सिंह, सीनियर टीटी जितेंद्र कुमार, विपिन सिंह, प्रेम प्रकाश यादव आदि उपस्थित रहे।

फसल अवशेष प्रबंधन पर दी गई जानकारी

निचलौल स्थित राजेंद्र प्रसाद ताराचंद पीजी कालेज में शनिवार को कृषि विज्ञान केंद्र, बसुली द्वारा एक दिवसीय जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसका मुख्य विषय फसल अवशेष प्रबंधन था। मुख्य वक्ता वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक डा. डीपी. सिंह ने फसल अवशेष प्रबंधन पर जानकारी दी। एक निबन्ध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त प्रतिभागियों को पुरस्कृत भी किया गया। विद्यार्थियों को विज्ञान और कृषि की तरफ रुचि जागृति करने के लिए प्रेरित किया। अभिषेक गोविंद राव, केंद के कार्यक्रम सहायक त्रिवेणी तिवारी, प्राचार्य डा. गोविंद शरण सिंह, उप प्राचार्य उपेन्द्र गुप्त, डा.राजेश यादव, अभिषेक त्रिपाठी व राजन आर्या उपस्थित रहे।

Edited By: Navneet Prakash Tripathi