जागरण संवाददाता, देवरिया: जिले में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। खुखुंदू थाना क्षेत्र के पड़री बाजार निवासी 65 वर्षीय लखी चंद मद्धेशिया की मेडिकल कालेज गोरखपुर में मौत हो गई। इसके साथ ही कोरोना से मरने वालों की संख्या 99 हो गई है। उधर मंगलवार को मिली कोरोना जांच रिपोर्ट में बाढ़ खंड के दो अवर अभियंता, जिला अस्पताल के एक डाक्टर समेत 117 की जांच रिपोर्ट पाजिटिव आई है।

जिले में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 7491 हो गई है। अभी तक 6742 लोग स्वस्थ हुए हैं, वहीं सक्रिय केस 650 है। होम आइसोलेशन में 470 व कोविड अस्पताल में तीन संक्रमितों का इलाज हो रहा है।

पिडी संवाददाता के अनुसार लार विकास खंड के पिडी स्थित न्यू प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की कम्युनिटी हेल्थ अफसर प्रमिला की रिपोर्ट कोरोना पाजिटिव आई है। उन्हें होम आइसोलेशन में रखा गया है।

सीएमओ डा. आलोक पांडेय ने कहा कि मंगलवार को कोरोना से एक की मौत हुई ह,ै जबकि 117 लोगों की जांच रिपोर्ट पाजिटिव आई है। स्वास्थ्य विभाग की टीम संक्रमितों को कोविड अस्पताल में भर्ती करा रही है। कोरोना की रफ्तार रोकने के लिए लोगों को स्वयं आगे आना होगा। छिड़काव व सैनिटाइजेशन आवश्यक: डीएम

देवरिया: जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने मुख्य चिकित्साधिकारी डा. आलोक पांडेय को जनपद में महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों, संस्थानों में संदिग्ध कोविड मरीजों को चिह्नित कराने एवं कोविड-19 की रोकथाम में लगे राजकीय कर्मियों को संक्रमण से बचाने के लिए 45 वर्ष से ऊपर के कार्मिकों को कोविड का वैक्सीनेशन कराने का निर्देश दिया। इसके साथ ही नियमित रूप से छिड़काव एवं सैनिटाइजेशन की व्यवस्था कराने को कहा है।

जिलाधिकारी ने कहा है कि जनपद में महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों, संस्थानों कलेक्ट्रेट, सत्र न्यायालय एवं दीवानी न्यायालय परिसर, विकास भवन, तहसील, जिला कारागार, पुलिस लाइन, मंडी, जिला अस्पताल पुरुष एवं महिला, वृद्धाश्रम, राजकीय बाल संरक्षण गृह, रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन इन सभी महत्वपूर्ण संस्थानों में नियमित रूप से संदिग्ध कोविड मरीजों की सैंपलिग की व्यवस्था की जाए। कोविड के प्रभाव की रोकथाम में अग्रणी भूमिका निभा रहे महत्वपूर्ण विभागों के कार्मिकों को इसके संक्रमण से बचाया जाना जिला प्रशासन की प्राथमिकता है। जनपद के प्रत्येक तहसील, थाना, विकास खंड कार्यालय, नगर निकाय, कलक्ट्रेट, विकास भवन, पुलिस आफिस, पुलिस लाइन, जिला कारागार एवं स्वास्थ्य विभाग की विभिन्न इकाईयों के सभी कार्मिकों की कोरोना जांच कराया जाए।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप