गोरखपुर, जेएनएन : नगर निगम बकायेदारों से कर की वसूली तेज करेगा। नगर आयुक्त अविनाश सिंह ने नगर निगम क्षेत्र में रहने वाले सभी कर दाताओं से अपील की है कि वह बेहतर सुविधाएं निर्बाध पाने के लिए जल्द से जल्द कर जमा करें। जो पूरा नहीं जमा कर सकते हैं, वह आधा या चौथाई ही जमा कर दें। नगर आयुक्त ने नगर निगम के सदन हाल में कर निरीक्षकों और कर समाहर्ताओं के साथ बैठक की। उन्होंने एक-एक कर निरीक्षक से लक्ष्य और उसके सापेक्ष अब तक जमा हुए कर के बारे में जानकारी ली। कहा कि कर वसूली में तेजी ले आना होगा। इससे नगर निगम की आय बढ़ेगी और नागरिकों को जरूरी सुविधा उपलब्ध कराने में कोई बाधा नहीं आएगी।

बैंक प्रबंधकों से मांगी मदद

नगर आयुक्त ने बैंक प्रबंधकों के साथ बैठक कर कारपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी सीएसआर के तहत नगर निगम को कोरोना से बचाव के लिए सामान देने की अपील की। भारतीय स्टेट बैंक, इंडसइंड बैंक, पंजाब नेशनल बैंक समेत अन्य बैंकों के प्रबंधकों के साथ बैठक की। कहा कि नगर निगम के कर्मचारी, सफाईकर्मी सभी पूरी तन्मयता से कोरोना से नागरिकों को बचाने में जुटे हैं। ऐसे समय में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए इन सभी को मास्क, सैनिटाइजर, पीपीई किट की ज्यादा आवश्यकता है। इसके साथ ही नगर निगम प्रशासन कोरोना संक्रमण से मौत होने पर निश्शुल्क अंतिम संस्कार करा रहा है। इसमें लकड़‍ियों की ज्यादा जरूरत है। बैंक अपने सीएसआर निधि से इसेे आसानी से उपलब्ध करा सकते हैं।

अब स्वच्छता का सिपाही

नगर आयुक्त ने सफाईकर्मियों को अब स्वच्छता का सिपाही पद नाम से बुलाने के निर्देश दिए हैं। कहा कि यह लोग शहर को साफ-सुथरा रखने में जी जान से जुटे हैं। कोरोना की पहली लहर की तरह दूसरी लहर में भी सभी स्वच्छता के सिपाही अपनी जिम्मेदारियों का ईमानदारी से निर्वहन कर रहे हैं। उन्होंने नागरिकों से अपील की कि वह सभी स्वच्छता के सिपाहियों को सम्मान दें और उनके कार्यों की प्रशंसा करते हुए प्रोत्साहित करें।