गोरखपुर। Railway News: रेलवे ने अपने यात्रियों को बड़ी राहत दी है। अगर सफर में आपका या बच्चे व स्वजन का जन्मदिन पड़ गया तो परेशान होने की जरूरत नहीं है। रेल यात्रा में भी यात्रियों के साथ घर जैसा बर्थ डे मना सकते हैं। निर्धारित स्टेशन व सीट पर मनपसंद केक, मिठाई, नाश्ता और खाना पहुंच जाएगा। इसके लिए इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कारपोरेशन (आइआरसीटीसी) के वाट्सएप नंबर 7042062070 पर सिर्फ हाय लिखकर भेजना होगा।

रेल यात्रा में भी मना सकते हैं जन्मदिन, निर्धारित सीट पर पहुंच जाएगी मिठाई और केक

रेल यात्रियों की ई- कैटरिंग सेवा की तरफ रुझान बढ़ाने और सिस्टम को और सुविधाजनक बनाने के लिए आइआरसीटीसी ने वाट्सएप नंबर जारी किया है। यात्री इस वाट्सएप नंबर को अपने मोबाइल में सुरक्षित कर यात्रा के दौरान अपनी इच्छानुसार खानपान की सामग्री आनलाइन मंगा सकते हैं। भारतीय थाली (वेज व नानवेज) ही नहीं फलाहार और ब्रांडेड कंपनियों के बर्गर और पिज्जा भी सामने होंगे। आनलाइन या नकद भुगतान की सुविधा उपलब्ध है।

यात्रियों की सुविधा के लिए आइआरसीटीसी ने जारी किया वाट्सएप नंबर

भारतीय रेलवे में आइआरसीटीसी की ई- कैटरिंग सेवा वर्ष 2017 से ही चल रही है। शुरुआत में खानपान की सामग्री मंगाने के लिए लोगों को आइआरसीटीसी के वेबसाइट पर बुकिंग करनी पड़ती थी, लेकिन जटिल सिस्टम के चलते लोग आनलाइन बुकिंग से कतराते थे। सिस्टम को आसान बनाते हुए आइआरसीटीसी ने टेलीफोन नंबर 1323 और फूड आन ट्रैक एप लांच किया। आनलाइन बुकिंग की सुविधा कुछ आसान हुई तो प्रतिदिन 50 हजार आर्डर मिलने लगे। उत्साहित प्रबंधन ने एक कदम आगे बढ़ाते हुए ई- कैटरिंग सेवा को और सरल व समृद्ध बनाने के लिए वाट्सएप नंबर जारी कर दिया है। ई- कैटरिंग सेवा के लिए गोरखपुर, लखनऊ, गोंडा और छपरा सहित देशभर के लगभग 400 स्टेशन चिन्हित हैं। इस सुविधा के लिए चिन्हित स्टेशनों के आसपास वाले मशहूर रेस्टोरेंट व ब्रांडेड कंपनियां नामित हैं।

पीएनआर स्टेटस व शिकायत की भी मिलेगी सुविधा

वाट्स नंबर पर यात्री खानपान की आनलाइन बुकिंग के साथ पीएनआर स्टेटस भी जान सकेंगे। इसके साथ ही अपनी शिकायत और सुझाव भी दर्ज कर सकते हैं। यात्री बुक आर्डर कहां तक पहुंचा, यह भी जान सकेंगे।

ऐसे करनी होगी बुकिंग

वाट्सएप नंबर 7042062070 पर हाय लिखकर सेंड करना होगा।

आर्डर फूड, चेक पीएनआर, ट्रैक आर्डर और कंप्लेंट का आप्सन आएगा।

फूड आर्डर का आप्सन खोलते ही खानपान का मेन्यू सामने आ जाएगा।

आर्डर के बाद वेंडर निर्धारित स्टेशन और ट्रेन की सीट पर पैकेट पहुंचा देगा।

यात्री सुविधाओं को बेहतर बनाने के लिए आइआरसीटीसी सतत प्रयत्नशील है। इसी दिशा में ई- कैटरिंग सेवा में वाट्सएप के रूप में एक नई पहल की गई है। - आनंद कुमार झा, जनसंपर्क अधिकारी- आइआरसीटीसी।

Edited By: Pradeep Srivastava

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट