सिद्धार्थनगर: प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना व मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान (आयुष्मान भारत) का लाभ अब अंत्योदय कार्डधारकों को भी मिलेगा। मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद पात्र लाभार्थियों को योजना से जोड़ दिया गया है। आपूर्ति विभाग में पंजीकृत 82045 राशन कार्ड धारक इस योजना का लाभ ले सकेंगे। लाभार्थियों को निश्शुल्क पांच लाख रुपये तक का उपचार मिलेगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अंत्योदय कार्डधारकों को आयुष्मान भारत योजना का लाभ देने की घोषणा की थी। खाद्य एवं रसद विभाग में 82045 अंत्योदय कार्ड धारक पंजीकृत हैं। इसमें 2.4 लाख लाभार्थी शामिल हैं। इनके लिए आयुष्मान कार्ड बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। जिला समन्वयक डा. लक्ष्मी सिंह ने बताया कि शासन की घोषणा के बाद अंत्योदय कार्डधारक योजना से जुड़ गये हैं। लाभार्थियों की सुविधा के लिए आयुष्मान कार्ड बनाने की प्रक्रिया जलद शुरू होगी। सभी लाभार्थियों का आयुष्मान कार्ड बनाने पर जोर रहेगा। बिना कार्ड के योजना का लाभ नहीं मिलेगा।

जनपद में बना पहला कार्ड

अंत्योदय कार्ड धारकों को आयुष्मान भारत योजना से जोड़ने के बाद प्रदेश में सबसे पहला कार्ड जनपद में बना है। भनवापुर ब्लाक क्षेत्र के आरोग्य मित्र अनिल गुप्ता ने लाभार्थी बिकलेश का 23 सितंबर की रात 08.51 बजे पहला कार्ड बनाया है।

3322 श्रमिकों को मिलेगा लाभ

जिला सूचना तंत्र प्रबंधक प्रत्युष दूबे ने बताया कि श्रम विभाग में पंजीकृत 3322 मजदूरों को भी आयुष्मान भारत योजना का लाभ दिया जा रहा है। मजदूरों को योजना से जोड़ दिया गया है। श्रम विभाग से मिले सूची के बाद लाभार्थियों के आयुष्मान कार्ड बनवाए जा रहे हैं। सीएमओ डा. संदीप चौधरी ने कहाकि आयुष्मान भारत योजना में श्रमिकों को जोड़ने के बाद अब अंत्योदय राशन कार्ड धारकों को जोड़ा गया है। खाद्य एवं रसद विभाग में पंजीकृत कार्ड धारकों के आयुष्मान कार्ड बनें, इसके प्रयास शुरू कर दिए गए हैं। अंत्योदय कार्ड धारकों में प्रदेश का सबसे पहला कार्ड भनवापुर ब्लाक में बना है। लाभार्थी कार्ड जरूरी बनवाएं।

Edited By: Jagran