गोरखपुर, जेएनएन। कोरोना महामारी पर नियंत्रण के लिए प्रदेश के कई जिलों में नाइट कर्फ्यू भले लगा दिया गया हो लेकिन गोरखपुर में फिलहाल कर्फ्यू नहीं लगेगा। दो दिन बाद जिला प्रशासन कोरोना के मामलों की समीक्षा कर इसपर फैसला लेगा। गुरुवार को इस महामारी पर नियंत्रण के लिए जिलाधिकारी ने व्यापारियों के साथ बैठक की। उनसे स्वयं कोरोना पर नियंत्रण के लिए जरूरी दिशा-निर्देशों का पालन करने एवं अन्य लोगों को भी जागरूक करने की अपील की।

व्यापारियों के साथ बैठक कर जिलाधिकारी ने कोरोना पर नियंत्रण के लिए की सहयोग करने की अपील

जिला पंचायत सभागार में आयोजित बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि फिलहाल नाइट कर्फ्यू शहर में नहीं लगाया जाएगा। दो दिन बाद ही इसपर फैसला लिया जाएगा। यदि मामले बढ़ते रहे तो कर्फ्यू लगाने का निर्णय लेना ही पड़ेगा। उन्होंने कहा कि बचाव की कोरोना का इलाज है। शारीरिक दूरी, मास्क, सैनिटाइजर आदि का प्रयोग किया जाए। उन्होंने व्यापारियों एवं होटल संचालकों से सुझाव भी प्राप्त किया। कहा कि सभी को मिलकर कोरोना पर विजय प्राप्त करना होगा।

दुकान के बाहर न करें सामान का डिस्प्ले

जिलाधिकारी ने कहा कि व्यापारी अपनी दुकान के सामने सामान का डिस्प्ले न करें। दुकान के अंदर ही सामान रखें। कोरोना से बचाव से जुड़े पोस्टर जरूर लगाए जाएं। बिना मास्क के किसी को दुकान में प्रवेश न करने दिया जाए। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी ने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए सावधानी बरती जाए। अफवाहों पर ध्यान न दिया जाए। नगर आयुक्त आशीष कुमार ने कहा कि सभी वार्डों में सभी वार्डों में छिड़काव किया जा रहा है। नगर निगम की टीम मास्क की जांच भी करेगी। बैठक में एडीएम सिटी आरके श्रीवास्तव, एसपी सिटी सोनम कुमार, सिटी मजिस्ट्रेट अभिनव रंजन श्रीवास्तव, अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत एके सिंह, व्यापारी नेता संजय सिंघानिया, रमेश चंद्र गुप्ता, योगेंद्र नाथ दुबे, अभिषेक शाही आदि मौजूद रहे।

पहली बार जुर्माना, दोबारा पकड़े गए तो होगा केस

जिलाधिकारी के. विजयेंद्र पाण्डियन ने लोगों से अपील की है कि वे मास्क का प्रयोग जरूर करें। शारीरिक दूरी भी अपनाएं। जांच के दौरान यदि बिना मास्क के कोई पकड़ा जाएगा तो उसपर जुर्माना लगाया जाएगा। दोबारा यदि फिर उसे पकड़ा गया तो मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

शहर में बनाए गए नौ कंटेनमेंट जोन

कोरोना पाजिटिव मिलने पर शहर में गुरुवार को नौ कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं। जिलाधिकारी ने बताया कि आवास विकास कालोनी बी ब्लाक सूरजकुंड, आवास विकास कालोनी सूरजकुंड, सिविल लाइन कार्मल स्कूल के पास, सिविल लाइन एचपी चिल्ड्रेन एकेडमी, सिविल लाइन एचपी डिफेंस एकेडमी, जाफरा बाजार अमन अस्पताल, शाहपुर आवास विकास कालोनी, शाहपुर घोसीपुरवा एवं राजेंद्र नगर लक्ष्मीपुर में कंटेनमेंट जोन बनाया गया है।

तहसीलदार डा. संजीव दीक्षित के नेतृत्व में टीम ने कोराना पाजिटिव मिलने पर इन स्थानों पर आवास सील किए। जिलाधिकारी ने बताया कि एक व्यक्ति पाजिटिव मिलने पर 25 मीटर, दो व्यक्ति मिलने पर 50 मीटर दायरे में कंटेनमेंट जोन बनाया जा रहा है। अपार्टमेंट में एक व्यक्ति मिलने पर फ्लैट को जबकि दो व्यक्ति मिलने पर पूरे अपार्टमेंट को सील किया जा रहा है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021