गोरखपुर, जागरण संवाददाता : संतकबीर नगर जिले के धर्मसिंहवा थाना क्षेत्र के धर्मसिंहवा में फूड प्वाइजनिंग का गंभीर मामला सामने आया है। कस्बे में एक ही परिवार के नौ लोग मिठाई खाकर बीमार पड़ गए। सभी को उपचार के लिए सिद्धार्थनगर जनपद के बेलौहा में स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां सबका उपचार चल रहा है। सात लोग खतरे से बाहर बताए जा रहे हैं। दो बच्चों की स्थिति गंभीर बनी हुई है।

राजेडीहा में घूमने व खरीदारी करने के लिए गया था मनोज का परिवार

धर्मसिंहवा निवासी मनोज वर्मा का परिवार शाम 7:00 बजे बेलहर थाना क्षेत्र के राजेडीहा में घूमने व खरीदारी करने के लिए गया हुआ था। इस दौरान चौराहे पर स्थित एक चाय- पान की दुकान पर सभी लोगों ने जलपान किया व रबड़ी मिठाई का सेवन किया। शुरुआत में तो किसी को कोई दिक्कत महसूस नहीं हुई। सभी लोग देर रात नौ बजे वापस घर लौटे तो सभी को उल्टी- दस्त व पेट दर्द की की शिकायत हुई। घर में मौजूद प्रदीप कुमार वर्मा ने स्थानीय चिकित्सकों को दिखाया तो लोगों ने फूड प्वाइजनिंग की बात कही। बीमार पड़े परिवार के सभी लोगों को सिद्धार्थनगर जनपद के एक निजी अस्पताल में देर रात भर्ती कराया गया, जिसमें 12 वर्षीय मीनल वर्मा, 10 वर्षीय स्वतंत्र वर्मा, 24 वर्षीय रमा वर्मा, 7 वर्षीय अंश वर्मा, 7 वर्षीय अनंत वर्मा, 2 वर्षीय आर्ची, एक वर्षीय अभि व 6 वर्षीय प्राची शामिल हैं। इनमें अभि व आर्ची की स्थिति गंभीर बनी हुई है। बाकी लोग उपचार के बाद राहत महसूस कर रहे हैं।

फूड प्वाइजनिंग की घटना से मचा हड़कंप

फूड प्वाइजनिंग की इस घटना से हड़कंप मच गया है। परिवार के लोग काफी परेशान हैं। उपजिलाधिकारी मेंहदावल अजय कुमार त्रिपाठी ने बताया कि घटना की जानकारी अभी तक प्राप्त नहीं हो पाई है। जिम्मेदार अधिकारियों को जानकारी के लिए लगाया जा रहा है। पूरे मामले की जांच कराई जाएगी। फूड प्वाइजनिंग के लिए जिस की भी जिम्मेदारी तय होगी उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Rahul Srivastava