गोरखपुर (जेएनएन) । जीआरपी ने रात में चलने वाली ट्रेनों की निगरानी बढ़ा दी है। एसपी रेलवे ने रात 10 बजे से भोर में चार बजे तक सभी थानेदारों को चौकस रहते हुए चेकिंग करने का निर्देश दिया है। सभी को थानाक्षेत्र के स्टेशन पर रात में रुकने वाले ट्रेनों की सूची भेजी है। लापरवाही बरतने पर कार्रवाई की चेतावनी दी है। चित्रकूट में ट्रेन में हुई डकैती के बाद एडीजी रेलवे ने सभी एसपी रेलवे को रात में गश्त बढ़ाने के साथ ही सघन चेकिंग कराने का निर्देश दिया है। एसपी रेलवे पुष्पांजलि देवी ने गोरखपुर अनुभाग के सभी थानेदारों को इसकी जानकारी देते हुए रात में चौकन्ना रहने को कहा है। थानास्तर पर दारोगा व सिपाही की टीम बनाकर रात 10 बजे से भोर में चार बजे तक छोटे स्टेशनों पर ट्रेन में चढ़ने वालों लोगों की चेकिंग करने को कहा है।
सादे लिबास में आउटर पर लगेगी ड्यूटी
आउटर पर ट्रेनों की निगरानी बढ़ाने के लिए जीआरपी जंक्शन और स्टेशन के दोनों छोर पर गश्त करेगी। इसके अलावा ट्रेनों में लूटपाट और डकैती की वारदातों में शामिल रहे बदमाशों की भी जीआरपी निगरानी कर रही है। जेल में बंद सदस्यों का वेरिफिकेशन कराया जाएगा। जो जेल से बाहर है, उनकी गतिविधियों पर भी निगाह रखी जा रही है।
रात में गुजरती हैं 280 से अधिक ट्रेनें
रात में 10 बजे से भोर में चार बजे के बीच गोरखपुर अनुभाग से होकर करीब 280 ट्रेनें गुजरती हैं। जिसमें जीआरपी और आरपीएफ की एस्कोर्ट होती है। एसपी रेलवे ने सभी थानेदारों को निर्देश दिया है कि ट्रेन में चेकिंग करने के दौरान यात्रियों से बातचीत करें। अपना परिचय देते हुए मोबाइल नंबर देकर कोई परेशानी होने पर फोन करने के लिए कहें।
एसपी रेलवे पुष्पांजलि देवी ने कहा कि गोरखपुर अनुभाग से रात में गुजरने वाली ट्रेनों की सघन जांच कराई जा रही है। थानेदारों को ट्रेनों की सूची भेज दी गई है। लापरवाही बरतने वालों पर कार्रवाई होगी। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस