गोरखपुर, जेएनएन। नेपाल में दो दिनों से हो रही भारी बारिश के चलते जनजीवन बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। इस दौरान अलग-अलग स्थनों पर हुए भूस्खलन से 11 लोगों की मौत हुई है, जबकि पांच लोगों के लापता होने की सूचना है। नेपाल के पश्चिमी जिले गुल्मी में भारी बारिश के बाद हुए भूस्खलन के चलते भारी प्रभाव देखने को मिल रहा है।
नेपाल के गुल्मी जिला पुलिस कार्यालय के निरीक्षक रविंद्र खड़का ने बताया कि जिले के लिमघा और थुलो लुंपेक इलाकों में सोमवार की रात भूस्खलन हुआ। जिसमें 11 लोगों की मौत हो गई। थुलो लुंपेक के भूस्खलन में कई घर ढह गए, जिससे घर में रह रहे लोग घायल हो गए हैं। दो मृतकों की पहचान दर्शन तारामु (7) और तिल कुमारी (31) के रूप में हुई है। लिमघा इलाके में भूस्खलन के चपेट में आए एक मकान के सात लोगों की मौत हो गई। एक स्थानीय अधिकारी ने बताया कि नगरपालिका चार में भूस्खलन होने से एक दलित बस्ती के तीन घरों को नुकसान पहुंचा है। मलबे  में दबने से दो लोगों की मौत हुई है।
मृतकों के शवों को पहचानना मुश्किल है क्योंकि उनके शव क्षत विक्षप्त अवस्था में निकाले गए हैं। अधिकारी ने बताया कि उनके शवों के कई टुकड़े हो गए थे। गुल्मी जिला के मुख्य जिला अधिकारी यदुनाथ पौडेल ने बताया कि  भूस्खलन में पांच लोग अभी भी लापता हैं और उनकी तलाश जारी है। इलाके में भूस्खलन जारी है। वहां के सभी लोगों को समीप के एक स्कूल में रखा गया है। उन्होंने कहा कि नेपाल पुलिस, नेपाल सेना और सशस्त्र पुलिस बल के जवान मौके पर लोगों को निकलाने के काम में जुटे हुए हैं।

 

Posted By: Pradeep Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस