जागरण संवाददाता, गोरखपुर

सूर्य विहार कालोनी, तिवारीपुर में ब्यूटी पार्लर चलाने वाली रेनू सिंह (40) की मंगलवार को तड़के सोते समय कमरे में हत्या कर दी गई। सिर के पीछे किसी भारी चीज से प्रहार कर उनकी हत्या की गई थी। उनके शरीर से गहने गायब थे और कमरे में रखी आलमारी खुली थी। इस आधार पर पति सुनील सिंह ने लूटपाट के लिए हत्या की आशंका जताई है। पति की तहरीर पर अज्ञात बदमाशों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर पुलिस घटना की छानबीन में जुटी है।

मूल रूप से धनघटा, संतकबीरनगर के मटौली निवासी सुनील सिंह के पिता कालिका सिंह को गोला क्षेत्र के नेवास गांव में नेवासा मिला हुआ है। उनके परिवार के लोग नेवास गांव में ही रहते हैं। सुनील सिंह ने सूर्य विहार कालोनी में घर बनवा रखा है। पत्‍‌नी व बच्चे के साथ यहीं घर के प्रथम तल पर रहते हैं। भूमि तल के एक कमरे में रेनू सिंह ब्यूटी पार्लर चलाने के साथ ही ब्यूटीशियन का प्रशिक्षण भी देती थीं। उसके बगल का कमरा उन्होंने एक व्यक्ति को किराये पर दे रखा है। सुनील सिंह पहले टेंपो चलवाते थे लेकिन अब गांव आ-जाकर खेती-बारी का काम देखते हैं। बेटे शिवम ने इसी साल इंटर की परीक्षा पास की है। प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने के उद्देश्य से दो माह पहले वह दिल्ली चला गया।

पति के मुताबिक भोर में 3.30 बजे के आसपास पत्‍‌नी को बेडरूम में सोता छोड़कर वह टहलने चले गए। एक घंटे बाद 4.30 बजे के आसपास टहलकर घर लौटे तो बेड पर खून में डूबी पत्‍‌नी की लाश मिली। सिर से खून निकल रहा था। शरीर पर कई जगह काला निशान पड़ा हुआ था। पत्‍‌नी का शव देखकर सकते में आए सुनील ने नीचे आकर पहले किरायेदार को जगाने की कोशिश की लेकिन उनके कमरा न खोलने पर उन्होंने बगल में रहने वाले पत्‍‌नी के भाई के परिजनों को इस बारे में बताया। परिजनो ने ही पुलिस को सूचना दी। मौके पर एसएसपी शलभ माथुर, एसपी सिटी विनय कुमार सिंह और क्षेत्राधिकारी कोतवाली मौके पर पहुंचे थे। डाग स्क्वाड और फोरेंसिक टीम ने भी घटनास्थल पर पहुंचकर छानबीन की है। शुरुआती जांच-पड़ताल के आधार पर पुलिस चोट की वजह से रेनू सिंह के शरीर पर काला निशान पड़ने की आशंका जता रही है।

---

अज्ञात के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया गया है। फारेंसिक जांच में कुछ सुराग मिले हैं। इस आधार पर तफ्तीश की जा रही है। उम्मीद है कि जल्दी ही घटना का पर्दाफाश कर लिया जाएगा।

शलभ माथुर, एसएसपी

Posted By: Jagran