गोरखपुर, जागरण संवाददाता। मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (एमएमयूटी) का 60वां स्थापना दिवस पर गुरुवार को विभिन्न कार्यक्रम आयोजित होंगे। स्थापना दिवस पर मुख्य अतिथि और विशिष्ट अतिथि यहां के पुरातन छात्र होंगे। विश्वविद्यालय स्थापना दिवस को हीरक जयंती वर्ष के रूप में मनाएगा। इस अवसर पर वर्ष भर के कार्यक्रमों के बुकलेट का जहां लोकार्पण होगा वहीं हीरक जयंती का लोगो भी लांच किया जाएगा। बुधवार को देर शाम तक समारोह के आयोजन की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई।

बहुउद्देशीय भवन में होगा कार्यक्रम

कुलपति प्रो.जेपी पांडेय ने बताया कि कार्यक्रम का उद्घाटन सत्र सुबह 11 बजे बहुउद्देशीय भवन में शुरू होगा और दोपहर करीब साढ़े 12 बजे तक चलेगा। मुख्य अतिथि विश्वविद्यालय के पुरातन छात्र एवं पूर्वोत्तर रेलवे के वरिष्ठ उप महाप्रबंधक व मुख्य सतर्कता अधिकारी दिनेश सिंह होंगे। जबकि विशिष्ट अतिथि के रूप में को-फोर्ज के चीफ इंटेलिजेंस एंड सिक्योरिटी आफिसर जीतेंद्र मोहन मौजूद रहेंगे। उन्होंने बताया कि उद्घाटन सत्र में ही पढ़े गोरखपुर-बढ़े गोरखपुर स्कीम लांच की जाएगी। इसके तहत विश्वविद्यालय द्वारा गोद लिए गए आठ सरकारी स्कूलों में प्रत्येक शनिवार को बीटेक के छात्र जाएंगे और बच्चों को गणित-विज्ञान व अंग्रेजी पढ़ाएंगे। इसके लिए विश्वविद्यालय के 24 छात्रों की टीम गठित की गई है।

रक्तदान हेल्पलाइन नंबर को होगा शुभारंभ

विश्वविद्यालय परिसर में रक्तदान शिविर का भी आयोजन किया जाएगा। इस दौरान रक्तदान हेल्पनाइन नंबर का भी शुभारंभ होगा। दोपहर में छात्रों और स्टाफ के बीच मैत्रीपूर्ण क्रिकेट मैच खेला जाएगा। जिसमें पुरातन छात्रों की सहभागिता रहेगी।

लहंगा व साड़ी बैंक बनेगा

एमएमयूटी ने सोशल वेलफेयर के तहत लहंगा व साड़ी बैंक बनाने की योजना बनाई है। इसके लिए स्थापना दिवस पर परार्थ पार्ट-दो लांच किया जाएगा। इस बैंक से गरीब परिवार की महिलाओं को कम किराए पर साड़ी व लहंगा उपलब्ध कराया जाएगा। इसके लिए सिर्फ कपड़ों की धुलाई की कीमत ली जाएगी। इस बैंक की शुरूआत सबसे पहले कुलपति की पत्नी सरोज पांडेय 21 नई साड़ी देकर करेंगी। कुलपति प्रो.जेपी पांडेय ने बताया कि राज्यपाल के दिशा-निर्देश पर इसकी शुरूआत की जा रही है। इसका संचालन एनएसएस के स्वयंसेवक व स्वयं सेविकाएं करेंगे।

Edited By: Pragati Chand

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट