बस्ती। बस्ती में महिला को बेहोश कर दुष्कर्म का मामला सामने आया है। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। वह सीतापुर जिले का रहने वाला है और बस्ती में फेरी लगाता था। पुलिस आरोपित के मोबाइल नंबर के सहारे उस तक पहुंची।

यह है मामला

दस सितंबर को एक महिला जो कि बस्ती से अपने घर वापस जाने के लिए कटरा पानी की टंकी के पास टेंपो का इंतजार कर रही थी। इसी बीच एक व्यक्ति बाइक से आया और अपने आपको गांव का सचिव बताते हुए गनेशपुर जाने की बात कहकर महिला को लिफ्ट दे दिया। बाद में अपने पास रखे बोतल से पानी पिलाया, जिसे पीने के बाद महिला बेहोश हो गई। आरोप है कि उसने महिला को किसी जगह ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। विरोध करने पर मारा-पीटा व महिला के जेवर व नकदी आठ हजार रुपये छीन लिए।

हैवानियत के बाद दी जान से मारने की धमकी

बाद में जान से मारने की धमकी देते हुए उसे दूसरे दिन सुबह पांच बजे कप्तानगंज मंदिर के पास छोड़ कर चला गया। महिला ने मामले में 22 सितंबर को थाना कोतवाली पर घटना की तहरीर देकर आरोपित के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया। महिला के पास आरोपित का मोबाइल नंबर था, मगर नाम व पता की जानकारी नहीं थी। कोतवाली पुलिस व स्वाट टीम ने सर्विलांस सेल की मदद से सोमवार को छावनी थाने के केनौना- रानीपुर में किराये के कमरे से आरोपित शिवकुमार निवासी उमरहर थाना सदरपुर जनपद सीतापुर को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के अनुसार आरोपित फेरी का काम करता है।

गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम

निरीक्षक मनोज कुमार त्रिपाठी, प्रभारी स्वाट टीम गजेंद्र प्रताप सिंह, उप निरीक्षक जयविंद यादव, आरक्षी प्रकाश यादव, रमेश कुमार, धर्मेंद्र कुमार, सुधीर शर्मा, किशन सिंह, धीरज यादव शामिल हैं।

किशोर को पुलिस ने परिवारीजनों को किया सिपुर्द

बस्ती छावनी पुलिस ने किसी बात से नाराज होकर घर से निकले किशोर को बरामद कर लिया। सोमवार को उसे परिवारीजनों को सिपदुर्द कर दिया गया। थानाध्यक्ष छावनी उमा शंकर त्रिपाठी को सूचना मिली कि एक किशोर विक्रमजोत कस्बे के निकट एक ढाबे पर मौजूद है। वह तुरंत किशोर को लेकर थाने पर आए और पूछताछ करने लगे। पूछताछ के बाद परिवारीजनों को सूचना दी गई। थानाध्यक्ष ने बताया कि रुधौली कस्बा निवासी 15 वर्षीय आदर्श सोनी पुत्र अनिल कुमार सोनी रविवार को दोपहर बाद घर से लापता हो गया था।

सोमवार को छावनी थाना क्षेत्र के विक्रमजोत कस्बे के पास किसी व्यक्ति ने किशोर से पूछताछ करने के बाद छावनी पुलिस को सूचना दिया। किशोर किसी बात से नाराज होकर रविवार की दोपहर बाद घर से साइकिल लेकर निकला था। वह फोरलेन होते हुए विक्रमजोत पहुंच गया था। परिवारीजनों के साथ आए लोगों ने छावनी पुलिस द्वारा किशोर को बरामद करने पर पुलिस कर्मियों की सराहना की।

Edited By: Pradeep Srivastava

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट