गोरखपुर, जेएनएन। उर्वरक एवं रसायन मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा ने कहा कि इसी साल जून में खाद कारखाना का काम पूरा कर लिया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खाद कारखाना को देश को समर्पित करेंगे। उत्तर प्रदेश और बिहार के किसानों को समय से उचित रेट पर न सिर्फ यूरिया मिलेगी वरन हजारों को रोजगार भी मिलेगा। गोरखपुर औद्योगिक विकास प्राधिकरण (गीडा) में प्लास्टिक पार्क की स्थापना को मंजूरी दे दी गई है। 52 एकड़ में बनने वाले इस प्लास्टिक पार्क की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) अप्रैल महीने में तैयार कर ली जाएगी।

गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ खाद कारखाना के कार्यों का निरीक्षण करने के बाद उर्वरक एवं रसायन मंत्री पत्रकारों से बात कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खाद कारखाना के लिए कोई भी जरूरत होने पर एक मिनट में उपलब्ध कराया। आजादी के बाद जितना विकास नहीं हुआ उतना मुख्यमंत्री ने कुछ वर्षों में कर दिया। पत्रकारवार्ता में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की और कहा कि उनके मार्गदर्शन में विकास कार्य तेजी से पूरे हो रहे हैं।

90 लाख मीट्रिक टन होता है आयात

उर्वरक एवं रसायन मंत्री ने कहा कि अभी देश में 80 से 90 लाख मीट्रिक टन यूरिया का आयात होता है। गोरखपुर, रामागुंडम, सिंदरी और बरौनी में खाद कारखाना का निर्माण कार्य तेजी से पूरा कराया जा रहा है। इन कारखानों के चलने पर देश यूरिया के मामले में आत्मनिर्भर हो जाएगा। कहा कि केंद्र सरकार किसानों के खाते में सीधे सब्सिडी भेजेगी। उर्वरक एवं रसायन मंत्री ने कहा कि अयोध्या और वाराणसी में दो सीपेट केंद्रों का जल्द प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वर्चुअल शुभारंभ करेंगे।

साढ़े छह साल में बदल गया गोरखपुर

उर्वरक एवं रसायन मंत्री ने कहा कि वर्ष 2014 में बतौर रेल मंत्री एक रेल हादसे की जानकारी के बाद गोरखपुर आया था। अब आया हूं तो गोरखपुर में विकास देखकर आश्चर्यचकित हूं। बहुत कम समय में मुख्यमंत्री ने बहुत ज्यादा काम कराया है।

Edited By: Satish chand shukla