गोरखपुर, जागरण संवाददाता। एयरफोर्स स्टेशन के आसपास नो कंस्ट्रक्शन जोन का दायरा घटाने के बाद जीडीए उस क्षेत्र की कालोनियों को नियमित करने में जुट गया है। इस क्षेत्र में विकसित सैनिक विहार कालोनी सहित कुछ अन्य कालोनियों के लोगों को अब मानचित्र पास कराने में राहत मिलने की उम्मीद है। जीडीए की ओर से एक प्रस्ताव बोर्ड की बैठक में रखा जाएगा, जिसके पास होने के बाद मानचित्र पास कराने का खर्च कुछ कम हो जाएगा। जो लोग पुरानी दर पर मानचित्र पास करा चुके हैं, उनके पैसे भी वापस हो सकते हैं। जीडीए बोर्ड की बैठक सोमवार की शाम को होगी।

कम हुआ नो कंस्ट्रक्शन जोन का दायरा

एयरफोर्स स्टेशन के आसपास पहले 900 मीटर परिधि में किसी भी तरह के निर्माण पर रोक थी। जीडीए ने लोगों की समस्या को देखते हुए नो कंस्ट्रक्शन जोन का दायरा घटाकर 100 मीटर कर दिया है। एयरफोर्स स्टेशन की बाहरी चहारदिवारी से 100 मीटर की परिधि के बाहर निर्माण कार्य हो सकता है। भू उपयोग अनुकूल होने पर मानचित्र भी पास किया जाएगा। इस क्षेत्र में विकसित सैनिक विहार एवं अन्य कालोनियों में मानचित्र पास कराने के लिए जीडीए की ओर से शिविर भी लगाए गए थे। एक दर्जन से अधिक लोगों ने मानचित्र पास करा लिया है। इसी बीच जीडीए अधिकारियों को मोहल्ले के लोगों की ओर से एक शासनादेश दिया गया है।

सोमवार जीडीए बोर्ड की बैठक में ल‍िए जाएंगे कई महत्‍वपूर्ण न‍िर्णय

शासनादेश के अनुसार मानचित्र शुल्क में कुछ छूट मिल सकती है। इसी के तहत प्रस्ताव बनाकर जीडीए बोर्ड की बैठक में शामिल किया जाएगा। इस दौरान उस क्षेत्र के मानचित्र पास करने पर रोक लगा दी गई है। बोर्ड की बैठक पहले 12 अक्टूबर को होनी थी लेकिन कतिपय कारणों से बैठक को स्थगित कर दिया गया। यह बैठक अब सोमवार 18 अक्टूबर को होगी। पहले से 15 प्रस्ताव शामिल किए गए थे लेकिन इस बीच सैनिक विहार में मानचित्र पास करने से जुड़ा प्रस्ताव शामिल किया गया है। जीडीए के उपाध्यक्ष प्रेम रंजन सिंह ने बताया कि सोमवार को जीडीए बोर्ड की बैठक होगी। बैठक में सैनिक विहार कालोनी में मानचित्र के शुल्क को लेकर चर्चा की जाएगी।

Edited By: Pradeep Srivastava