गोरखपुर, जेएनएन। हरपुर-बुदहट थाने पर घंटों चली पंचायत के बाद आखिरकार प्रेमी युगल को साथ रहने के लिए परिजन तैयार हो गए। पुलिस के हस्तक्षेप के बाद परिजनों के मानने पर थाना परिसर में ही स्थित मंदिर में प्रेमी युगल ने शादी कर ली और सात जन्मों तक साथ रहने की कसम खाई। प्रेमी-प्रेमिका क्षेत्र के बरसिहा गांव के रहने वाले हैं।

एक ही गांव के हैं प्रेमी और प्रेमिका

हरपुर-बुदहट थाना क्षेत्र वरसिहा निवासी रामदरश की बेटी सुमन व गांव के ही श्रीकांत के पुत्र शनि कुमार के बीच करीब तीन वर्ष से प्रेम प्रसंग चल रहा था। प्रेमी युगल शादी करना चाह रहे थे लेकिन परिजन राजी नहीं हो रहे थे।

फरार होने के नहीं किया संपर्क

करीब पांच माह पूर्व दोनों घर से फरार हो गए। उसके बाद दोनो ने किसी से संपर्क नहीं किया। दोनो परिवार के सदस्‍य काफी खोजबीन किए। हर संभावित स्‍थानों पर गए, पर कहीं पता नहीं चल पाया।

तीन दिन पहले घर लौटे प्रे‍मी-प्रेमिका

शनि और सुमन को लगा कि अब परिवार के लोगों का गुस्‍सा कम हो गया होगा, इसीलिए दोनो ने घर आने की तैयारी की। अभी तीन दिन पहले प्रेमी-प्रेमिका को लेकर अपने घर आया। शनि के घर के लोगों का गुस्‍सा कम नहीं हुआ था।

युवती को घर से निकाला तो थाने पहुंचा मामला

काफी बहस के बाद शनि के घर वालों ने युवती को घर से निकाल दिया। इसके बाद युवती न्याय पाने के लिए थाने पर पहुंची। पुलिस ने दोनों के परिजनों को बुलाया और समझौता करने की बात कही लेकिन युवक का पिता युवती को घर ले जाने को तैयार नहीं था। पुलिस के काफी समझाने के बाद दोनों परिवार शादी के लिए रजामंद हो गए। थाना परिसर में स्थित मंदिर में प्रेमी युगल ने एक दूसरे को जयमाल डाल कर साथ रहने की कसम खायी।

दोनो परिवार के लोग मिले गले, दी बधाई

जयमाल के बाद दोनों परिवार के लोग गले मिले और युवक के परिजन युवती की विदाई करा कर थाने से अपने घर लेकर चले गए। थानेदार देवेंद्र लाल ने कहा कि प्रेमी युगल बालिग थे और दोनों परिवार के रजामंदी के बाद थाने के मंदिर में शादी करके घर गए।

Posted By: Satish Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप