गोरखपुर, जेएनएन। गोरखपुर में शनिवार और रविवार दो दिनों की पाबंदी के बाद सोमवार से सभी पाबंदियां तो हट जाएंगी लेकिन महानगर के कैंट, शाहपुर, गोरखनाथ और गुलरिहा थाना क्षेत्र के सभी मोहल्ले, गलियां, बाजार पूरी तरह से 17 अगस्त की सुबह पांच बजे तक बंद रहेंगे। पिछले सात दिनों से लाकडाउन में रहे राजघाट थाना क्षेत्र से पाबंदी हटा ली गई है। जिन चार थानाक्षेत्रों में पाबंदी लगाई गई है वहां सभी आवश्यक सेवाएं पूर्व की भांति जारी रहेंगी। दवा की दुकानें, सरकारी दफ्तर, बैंक और अस्पताल खुले रहेंगे। डीएम के. विजयेंद्र पांडियन ने बताया कि शहर के चार थाना क्षेत्रों में लगातर बढ़ रहे संक्रमण को देखते हुए 17 अगस्त की सुबह पांच बजे तक पूरी तरह लाकडाउन रहेगा, हालांकि इमरजेंसी सेवाएं जारी रहेंगी। होम डिलीवरी की भी व्यवस्था लागू रहेगी। डीएम ने बताया कि सात दिन लाकडाउन के दौरान संदिग्ध लोगों की सैंपलिंग कराई जाएगी। इसके साथ ही पूरा इलाका सैनीटाइज होगा। लोगों को कोई असुविधा न हो इसके लिए संबंधित थानाक्षेत्रों में होम डिलीवरी की व्यवस्था बहाल की जाएगी। उन्होंने बताया कि चारो थाना क्षेत्रों के सभी मोहल्लों में बैरीकेडिंग कराई जाएगी ताकि लोगों के बेवजह आने-जाने पर रोक लग सके। इमरजेंसी कारणों पर ही बाहरी व्यक्तियों को प्रवेश दिया जाएगा। चारों थानाक्षेत्रों में संदिग्ध और बुजुर्गों का सैंपल लिया जाएगा। इसके साथ ही उनका भी सैंपल लिया जाएगा जो हाटस्पाट के बेहद करीब होंगे।

संक्रमितों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है। किसी को भी घबराने की जरूरत नहीं है। पूर्व के लाकडाउन की ही तरह सभी के घरों तक जरूरी सेवाएं पहुंचेंगी।

सभी से अपील है कि स्वास्थ्य संबंधी इमरजेंसी में ही घरों से निकले। कोई बेवजह घूमता मिला तो कार्रवाई की जाएगी। सरकारी दफ्तरों में काम करने वाले कर्मचारियों का आइकार्ड पास की तरह मान्य होगा। - के. विजयेंद्र पांडियन, डीएम

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस