गोरखपुर, जेएनएन। गोरखपुर में शनिवार को कोरोना संक्रमण के कुल 59 नमूनों की जांच हुई। 54 निगेटिव व पांच की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। सीएमओ डॉ श्रीकांत तिवारी ने बताया कि अब जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या 79 हो गई है। इसमें से पांच की मौत हो चुकी है और 19 ठीक होकर घर जा चुके हैं। 55 लोगों का इलाज चल रहा है।

देवरिया में कोरोना के नौ मरीज मिले, संख्‍या 80 हुई

देवरिया में कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। शनिवार को बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज गोरखपुर से आई रिपोर्ट में 25 निगेटिव व नौ लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव है। इस तरह से देवरिया में पॉजिटिव की संख्या 80 हो गई है। हालांकि इससमें से 25 लोग स्वस्थ होकर अपने घर चले गए हैं।

 सिद्धार्थनगर में फिर मिले कोरोना के तीन मरीज, संख्‍या 105 हुई

सिद्धार्थनगर जिले में शनिवार को तीन नए कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। मोहाना थाना के रामनगर में लगातार दूसरे दिन एक पॉजिटिव मिला है। दूसरा मरीज बर्डपुर ब्लाक के फसादीपुर गांव का निवासी है। जबकि तीसरा शोहरतगढ़ तहसील में चौहट्टी गांव का है। इस मरीज का बड़ा पुत्र पहले संक्रमित मिल चुका है। इसे प्रशासन ने रुधौली बस्ती में आइसोलेट कराया है। गोरखपुर बीआरडी मेडिकल कालेज से तीन लोगों की रिपोर्ट आई है। स्वास्थ्य विभाग ने एक मरीज को बर्डपुर स्थित एल-वन सेंटर व दूसरे को बस्ती के कैली अस्पताल में आइसोलेशन के लिए भेजा है।तीसरा मरीज मेडिकल कालेज गोरखपुर में भर्ती है। 

बस्ती में कोरोना से पांचवी मौत, संक्रमितों की संख्‍या 157 हुई

बस्ती जिले में कोरोना वायरस तेजी से अपना पांव पसार रहा है। पिछले छह दिनों से लगातार कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलते रहे हैं। शनिवार को बीआरडी मेडिकल कालेज गोरखपुर से आई रिपोर्ट में पड़रिया गांव का मृत युवक भी कोरोना पाॅजिटिव पाया गया है। इसी के साथ जिले में मरने वालों की संख्या बढ़कर पांच हो गई है। रुधौली थाना क्षेत्र के पड़रिया गांव निवासी 62 वर्षीय मेवालाल चौधरी एक सप्ताह पूर्व दिल्ली से घर आया था। 19 मई को बुखार हुआ। पहले हनुमानगंज बाजार में एक प्राइवेट चिकित्सक से दवा कराया। बाद में एक निजी अस्पताल में भी इलाज कराया। फिर सीएचसी रुधौली पहुंचा। वहां से जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। इलाज के दौरान 24 मई को मेवालाल की मौत हो गई। अस्पताल प्रशासन ने कोविड-19 की जांच के लिए सैंपल लिया। रिपोर्ट आने तक मेवालाल का शव परिजनों को सौंपा नहीं गया था। बाद में 27 मई को विश्व स्वास्थ्य संगठन के गाइडलाइन के अनुसार शव परिजनों को सुपुर्द कर अंतिम संस्कर करा दिया गया। बताया जाता है कि एक बार सैंपल लिया गया था जो गायब हो गया था, बाद में पुनः सैंपल लिया गया था। इसके चलते देरी हुई। एसीएमओ डा. फखरेयार हुसैन ने बताया कि मृतक की रिपोर्ट पाॅजीटिव आई है। उसके संपर्क में आने वाले को क्वारंटाइन कराया गया है। जिले में अब संक्रमितों की संख्या 157 हो गई है। इसमें से 41 लोग स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। पांच की मौत हो चुकी है और अभी 111 सक्रिय मरीज अस्‍पताल में भर्ती हैं।

 महराजगंज में कोरोना कोरोना संक्रमितों की 49 हुई

महराजगंज से कोरोना जांच के लिए 27 मई को भेजे गए 67 नमूने में से 64 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। जबकि तीन की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। महराजगंज जिले में कोरोना के कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 49 हो गई है। 17 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। जबकि गोरखपुर के कैंपियरगंज थाना अंतर्गत एक व्यक्ति की मौत हो चुकी है। वर्तमान में एक्टिव मरीजों की संख्या 31 हो गई है। पनियरा क्षेत्र के ग्राम पंचायत जर्दी निवासी 50 वर्षीय व्यक्ति दिल्ली से तथा तेंदुअहिया निवासी 48 वर्षीय व्यक्ति चेन्न्ई तथा परतावल ब्लाक के ग्राम पंचायत बेलवा बुजुर्ग का 45 वर्षीय व्यक्ति कुवैत से आया था। संदिग्ध लक्षण मिलने पर इन सभी को क्वारंटाइन करते हुए जांच के लिए नमूने भेजे गए थे। रिपोर्ट आने के बाद तीन पॉजिटिव मरीजों को राजकीय पालिटेक्निक पुरैना कोविड केयर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। नोडल अधिकारी डा. आईए अंसारी ने बताया कि तीन मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

गोरखपुर में अब तक हो चुकी है पांच की मौत, संक्रमितों की संख्या 74 हुई

कोरोना संक्रमण के मद्देनजर कुल 113 नमूनों की जांच हुई। 110 की रिपोर्ट निगेटिव आई जबकि व तीन में संक्रमण की पुष्टि हुई। अब गोरखपुर में कुल संक्रमितों की संख्या 74 हो गई है। इसमें से 18 ठीक होकर घर जा चुके हैं और पांच की मौत हो चुकी है। एक्टिव केस 51 हैं। जिनका इलाज चल रहा है। सीएमओ डॉ. श्रीकांत तिवारी ने इसकी पुष्टि की।

चरगांवा के मानबेला निवासी 50 वर्षीय व्यक्ति 14 मई को मुंबई से आए थे। वह अपने गांव में क्वारंटाइन थे। 27 मई को सांस फूलने पर उन्हें बाबा राघव दास मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया था। चरगांवा के जंगल एकला नंबर दो, दक्षिण टोला निवासी 25 वर्षीय युवक 14 मई को चेन्नई से आया था। बुखार  होने उसे गीडा के डेंटल कॉलेज में क्वारंटाइन कराया गया था। माल्हनपार के करवनिया का रहने वाला एक 29 वर्षीय युवक मुंबई से 15 मई को अपने पिता के साथ गांव आया था। उसके पिता 21 मई को संक्रमित पाए गए थे। उसके बाद युवक को भी डेंटल कॉलेज, गीडा में क्वारंटाइन कराया गया। तीनों की रिपोर्ट शुक्रवार को पॉजिटिव आई। करवनिया गांव पहले से ही सील है। अन्य दो युवकों के गांवों को भी सील कर सैनिटाइज कराया जा रहा है। संक्रमित मिले मरीजों के संपर्क में आए लोगों की पहचान कर जांच कराई जाएगी।

Posted By: Satish Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस