गारेखपुर, जेएनएन। महराजगंज जिले में तीन और कोरोना पाजिटिव मरीज मिले हैं। पॉजिटिव पाए गए  प्रवासी कामगार ग्राम इमलिया महराजगंज, लोहरपुरवा, कैंपियरगंज, गोरखपुर व  बबनी बुजुर्ग के रहने वाले हैं। सभी लोग मुंबई से आए हैं। सभी को इलाज हेतु मेडिकल कॉलेज गोरखपुर भेजा जा रहा है। अब तक जिले में कुल 37 कोरोना पाजिटिव मरीज मिल चुके हैं। इनमें से नौ मरीज स्वस्थ हो चुके हैं जबकि एक मरीज की मौत हो चुकी है।

कुशीनगर में कोरोना का एक और मरीज मिला

कुशीनगर जनपद के सुकरौली बाजार विकास खंड के गांव पड़री निवासी एक युवक की जांच रिपोर्ट शनिवार को पॉजिटिव आई। इसी के साथ जिले में कोरोना पाजिटिव की संख्या आठ हो गई है। इसमें एक बुजुर्ग की मौत हो चुकी है जबकि दो लोगों की दूसरी व तीसरी जांच में रिपोर्ट निगेटिव आने पर उन्‍हें घर भेज दिया गया। पड़री गांव में कोरोना का यह दूसरा मरीज है। गांव में कोरोना का दूसरा मरीज मिलने के बाद प्रशासनिक अमले में हड़कंप मच गया। हाॅटस्पाट घोषित इस गांव की समीक्षा कर नोडल अधिकारी गौरव वर्मा ने और भी सतर्कता बढ़ाने का निर्देश दिया। इधर गांव को सैनिटाइज कर स्वास्थ्य विभाग की टीम और भी सतर्कता बरत रही है।

संतकबीर नगर में कोरोना के सात नए मरीज मिले, संख्‍या 62 हुई

संत कबीरनगर जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही है। शनिवार को 27 लोगों की जांच रिपोर्ट में सात लोग कोरोना संक्रमित मिले। इससे जिले में संक्रमितों की संख्या अब 62 हो गई है। इनमें से चार लोगों की मौत भी हो चुकी है। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. मोहन झा ने बताया कि 19 मई को मुंबई से ट्रक के माध्यम से जिले में आने वाले 27 लोगों को निर्माणाधीन जिला जेल में बने ट्रांजिट सेंटर पर थर्मल स्क्रीनिंग के दौरान संदिग्ध मिलने पर जिला संयुक्त चिकित्सालय के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करवाया गया था। इन लोगों का सैंपल जांच के लिए भेजा गया था। चार दिन बाद मिली रिपोर्ट में सात लोगों को कोरोना पॉजिटिव बताया गया है। उसके बाद सभी को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खलीलाबाद में भर्ती करवाया गया। संक्रमितों में नाथनगर ब्लाक के चंदीपुर का निवासी एक युवक और कोदवट गांव निवासी एक अधेड़ है। इसी तरह बघौली ब्लाक के ग्राम बढ़या और बूंदीपार के निवासी एक-एक युवक भी शामिल हैं। सांथा ब्लाक के महदेवा का एक अधेड़ भी संक्रमित मिला है। पाॅजिटिव लोगों में पौली ब्लाक के पचरा गांव का एक युवक और मेंहदावल ब्लाक के भटपुरवा का एक अधेड़ भी है।

फुल हुआ कोरोना वार्ड

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खलीलाबाद में कोरोना संक्रमितों का इलाज करने के लिए 30 बेड का वार्ड बनाया गया है। यहां सात आैर संक्रमितों के मिलने से पूर्व में भर्ती 23 को मिलाकर संख्या पूरी हो चुकी है। इसके बाद आगे मिले संक्रमितों को सेंट थॉमस इंटर कालेज में बने वार्ड में भर्ती किया जाएगा।

देवरिया में कोरोना के चार नए मरीज, संक्रमितों की संख्‍या 35 हुई

देवरिया जनपद में कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। शनिवार को आई रिपोर्ट में 16 लोगों के सैंपल निगेटिव व चार लोग कोरोना पॉजिटिव गए हैं। जिले में संक्रमित लोगों की कुल संख्या 35 हो गई है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. आलोक पांडेय ने बताया कि 16 जांच रिपोर्ट निगेटिव व चार पॉजिटिव आई है। इनमें पथरदेवा विकासखंड के बसडीला मैनुद्दीन गांव के दो लोग, देवरिया सदर के अहिल्यापुर गांव में एक, रामपुर कारखाना के डिहवा कोटवा गांव के एक व्यक्ति संक्रमित हैं। गांव में टीम भेजी जा रही है।

गोरखपुर में कोरोना मरीजों की संख्‍या हुई 32

स्वास्थ्य विभाग द्वारा बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज में भेजे गए नौ में से छह नमूनों की कोरोना जांच रिपोर्ट निगेटिव जबकि तीन की पॉजिटिव मिली है। दूसरी तरफ एक निजी लैब में हुई जांच में बेतियाहाता स्थित सवेरा हार्टकेयर हास्पिटल के एक डॉक्टर की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। सीएमओ डॉ. श्रीकांत तिवारी ने इसकी पुष्टि की। अब जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या 32 हो गई है। इसमें से तीन की मौत हो चुकी है और तीन ठीक होकर घर जा चुके हैं।

जिस डॉक्टर में संक्रमण की पुष्टि हुई है, वह संजय गांधी पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (एसजीपीजीआइ), लखनऊ में भर्ती कोरोना संक्रमित महिला की ईसीजी करने वाली टीम में शामिल थे। डॉक्टर को मेडिकल कॉलेज के कोरोना वार्ड में भर्ती कराया गया है। 15 मई को बरगदवा की रहने वाली एक महिला बेतियाहाता स्थित सवेरा हार्टकेयर हास्पिटल में गंभीर हालत में इलाज के लिए आई थीं। पांच सदस्यीय टीम ने ईसीजी करते हुए उन्हें एसपीजीआई लखनऊ रेफर कर दिया, जहां बिना कोरोना जांच के ही उन्हें पेसमेकर लगा दिया गया। पेसमेकर लगने के बाद महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई। सूचना मिलने के बाद यहां स्वास्थ्य विभाग ने अस्पताल को सील कर दिया और ईसीजी करने वाले दो डॉक्टरों को क्वारंटाइन करा दिया। इसमें से एक डॉक्टर की रिपोर्ट पूर्व में ही निगेटिव आ चुकी है। संक्रमित डॉक्टर महराजगंज के नौतनवां के रहने वाले हैं।

तीन नमूने और जांच के लिए भेजे गए

ईसीजी के दौरान उपस्थित अन्य तीन स्वास्थ्यकर्मियों के नमूने भी जांच के लिए निजी लैब में शुक्रवार को भेजे गए। तीनों को क्वारंटाइन कराया गया है। शनिवार तक रिपोर्ट आने की संभावना है। 

महिला के बेटे की रिपोर्ट निगेटिव

जिस महिला का ऑपरेशन एसपीजीआई में हुआ है, उनके साथ एंबुलेंस से गए बेटे की रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। महिला के पति बरगदवा स्थित अपने घर पर क्वारंटाइन हैं।

महिला के घर का कोई सदस्य बाहर से नहीं आया

कोरोना पॉजिटिव महिला के घर का कोई सदस्य न तो बाहर गया था और न ही बाहर से आया है। उधर, सामुदायिक संक्रमण को लेकर विभाग सतर्क है। महिला को अस्पताल लेकर जाने वाले एंबुलेंस चालक को भी क्वारंटाइन कर दिया गया है। उसकी जांच अभी नहीं हुई है।

डेंटल कालेज में क्वारंटाइन थे पॉजिटिव मिले तीन व्यक्ति

चिलुआताल क्षेत्र के नवापार के 41 व 45 साल के दो व्यक्तियों व पिपराइच वार्ड नंबर पांच निवासी 45 साल के एक व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। ये सभी डेंटल कॉलेज, गीडा में क्वारंटाइन थे। एक सप्ताह पूर्व मुंबई से आए थे। रिपोर्ट आने के बाद इन्हेंं मेडिकल कॉलेज के कोरोना वार्ड में भर्ती करा दिया गया है। 

Posted By: Satish Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस