गोरखपुर, जेएनएन। सहजनवां थाने में जब्त की गई 557 बोतल अंग्रेजी शराब गायब हो गई है। ज्वाइंट मजिस्ट्रेट की जांच में मामला सामने आने पर डीएम ने तत्कालीन थानेदार व मालखाना प्रभारी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने का निर्देश एसएसपी को दिया है। कार्रवाई की भनक लगने के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है।

शिकायत पर डीएम ने कराई जांच

जिलाधिकारी के विजयेंद्र पाण्डियन को शिकायत मिली थी कि सहजनवां थाने में जब्त कर रखी गई हरियाणा निर्मित अंग्रेजी शराब गायब हो गई है। जिसके बाद डीएम ने जांच के लिए ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/एसडीएम सहजनवां सरनीत कौर ब्रोका के नेतृत्व में स्पेशल टीम बनाई। 10 दिन पहले टीम के साथ सहजनवां थाने पहुंची ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने मालखाना खोल कर जब्त शराब, नष्ट की गई शराब और शराब जब्त करने के मामले में दर्ज प्राथमिकी की जांच की। शराब जब्ती अभियान के दौरान छापेमारी में शामिल टीम, पुलिस अधिकारी, जवान और वाहन चालक आदि की बिंदुवार जानकारी ली। जिसमें पता चला कि जब्त की गई 557 बोतल शराब गायब है।

सवालों का जवाब नहीं दे पाए थानेदार

अधिकारियों के पूछने पर थानेदार व मालखाना प्रभारी कुछ बता नहीं पाए। ज्वाइंट मजिस्ट्रेट की जांच रिपोर्ट मिलने के बाद डीएम ने तत्कालीन थानेदार व मालखाना प्रभारी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने का निर्देश एसएसपी को दिया है। डीएम के सख्त तेवर से पुलिस महकमें में हड़कंप मच गया है। अधिकारी कुछ भी बोलने से बच रहे हैं।

शराब की कीमत पांच लाख

जिलाधिकारी के विजयेंद्र पाण्डियन ने कहा कि सहजनवां थाने में भारी मात्रा में हरियाणा की शराब पकड़ी गई थी। जिसके दुरुपयोग की शिकायत मिलने पर ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/एसडीएम सहजनवां से जांच कराई गई। जिसमें पता चला कि करीब पांच लाख रुपये की शराब मालखाने से गायब है। दोषियों के खिलाफ एफआइआर कराने के निर्देश दिए गए हैं। 

Posted By: Satish Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस