गोरखपुर, जागरण संवाददाता। अव्यवस्था देखनी हो तो वार्ड नंबर आठ जंगल बेनीमाधव माधव नंबर एक के मोहरीपुर आ जाइए। नालियां हैं नहीं, सड़कें कहीं बनी ही नहीं हैं, जहां बनी हैं वहां इतने गड्ढे बन चुके हैं कि रोज हादसे हो रहे हैं। कुछ जगहों पर नागरिकों ने खुद रुपये खर्च कर सड़क में मलबा भरवाया था। बारिश के साथ ही मलबा बहने से पहले से ही जख्मी सड़कों का दर्द सामने आ गया।

पंजाब नेशनल बैंक से बरगदवां की ओर जाने वाली सड़क की बात करें तो यहां पूरे साल जलभराव रहता है। यहां के लोग सड़कों की स्थिति देख पार्षद, महापौर और सांसद तक से गुहार लगा चुके हैं लेकिन मिलता है तो सिर्फ आश्वासन। वार्ड में सफाई की स्थिति भी बहुत दयनीय है। हर तरफ गंदगी का अंबार है। नागरिकों का कहना है कि समस्याओं को दूर कराने के लिए एक बार फिर नगर आयुक्त से मुलाकात की जाएगी।

व्यापार हो रहा प्रभावित

वार्ड में जलभराव रहने के कारण दुकानदारों को भी काफी नुकसान हो रहा है। व्यापारी बताते हैं कि जलभराव होने के कारण ग्राहक दुकानों तक आ ही नहीं पा रहे हैं। ऐसा ही रहा तो दुकान बंद करनी पड़ जाएगी।

दो पहिया वाहन लेकर जाने में भी डर लगता है। बरगदवा या मोहरीपुर जाना हो तो शेखपुरवा की ओर से जाना पड़ता है, जिससे दूरी काफी बढ़ जाती है। - विजय यादव, मोहरीपुर।

यहां नाली व सड़कों के न बनने के कारण हमेशा गंदगी व जलभराव रहता है। साथ ही बदबू से लोगों का जीना हराम हो गया है। सड़कें बन जाएंगी तो जलभराव नहीं होगा। - हर्ष सागर, मोहरीपुर।

जलभराव के कारण व्यापार चौपट हो गया है। पिछले एक महीने में ग्राहकों की संख्या आधे से भी कम हो गई है। राहगीरों को भी पानी में गिरने का डर सताता रहता है। - ऋषभ जायसवाल, दुकानदार।

पंजाब नेशनल बैंक वाली सड़क से गुजरने से लोग कतराने लगे हैं। लगभग सौ मीटर के क्षेत्र में जलभराव और गंदगी के कारण लोगों का आना-जाना मुश्किल हो गया है। - अखिलेश पासवान, दुकानदार।

Edited By: Pradeep Srivastava