गोरखपुर, जागरण संवाददाता। रेलवे को-ऑपरेटिव बैंक ने अपने कर्मचारियों, अपने सदस्यों और आम लोगों के लिए कई महत्वपूर्ण घोषणाएं की है। बैंक ने पेंशन लेने के इच्छुक लोगों को ध्यान में रखते हुए मासिक आय योजना शुरू की है साथ ही बैंक के सदस्यों की ऋण सीमा को दस लाख से बढ़ाकर बीस लाख रुपये कर दिया है। शुक्रवार को हुई बैंक की आम सभा में यह निर्णय लिया गया।

बैंक कर्मियों को मिलीं काफी रियायतें

रेलवे को-ऑपरेटिव बैंक गोरखपुर (निकट रेलवे महाप्रबन्धक कार्यालय) की 101 वां वार्षिक सामान्य निकाय की बैठक (AGM) बैंक के सभापति अरविन्द कुमार चन्द की अध्यक्षता में हुई I अरविन्द कुमार चन्द ने बताया कि बताया कि वर्तमान में ऋण लेने वाले कर्मचारी के आकस्मिक मृत्यु होने की स्थिति में उनके परिवार एवं जमानतदारों से कोई कटौती नहीं की जाएगी, अवशेष ऋण का समायोजन कस्टमर रिलीफ फंड (CRF) से कर ली जाएगी I साथ ही साथ ग्राहकों के सुविधा हेतु अब पोस्ट आफिस की भांति बैंक में भी मासिक आय योजना (MIS) का शुभारम्भ कर दिया गया है , जिसके तहत बैंक के सदस्यों के आलावा कोई भी व्यक्ति एक मुश्त राशि जमा कर प्रति माह उसका निश्चित मासिक आय प्राप्त कर सकता है I

बैंक को हुआ 40 लाख रुपये का लाभ

बैंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सिद्धार्थ कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि विगत वित्तीय वर्ष मे बैंक ने लगभग रुपया 40 लाख लाभ अर्जित किया है I बैठक में वर्ष 2021-22 के लेखा-परीक्षित ‘संतुलन पत्र’ एवं लाभ-हानि खातों का साधारण सभा के सदस्यों द्वारा विचार विमर्श के बाद अनुमोदन किया गया। साथ ही साथ वर्ष 2022-23 के प्रस्तावित वार्षिक बजट पर भी गहन विचार–विमर्श के उपरान्त सर्व सम्मति से वार्षिक बजट को पारित किया गया I उन्होंने बताया कि बैंक मुख्यालय सहित सभी शाखाओं और विस्तार पटल पर ग्राहकों की सुविधा के लिये हेल्प डेस्क काम कर रहा है I

शेयर मद की राशि दस से घटाकर पांच प्रतिशत किया गया

बैंक के अध्यक्ष ने बताया कि अंशधारकों के हित को ध्यान में रखते हुए सभा ने निर्णय लिया है कि अब ऋण लेते समय ऋण के राशि के सापेक्ष शेयर के मद में जमा होने वाली 10 प्रतिशत राशि को घटा कर पांच प्रतिशत किया जाएगा I साथ ही साथ यह भी निर्णय लिया गया कि अंश धारकों को दी जाने वाली अधिकतम ऋण सीमा 10 लाख रुपये को बढ़ा कर 20 लाख रुपये कर दिया जाये। इसकी स्वीकृति के लिए केन्द्रीय निबन्धक, सहकारिता मंत्रालय को पत्र भेजा जाएगा।

उन्होंने कहा कि कहा कि रेल प्रशासन ने हमारी बहुप्रतीक्षित मांग बैंक के सीईओ के रूप में रेल अधिकारी को नामित कर सराहनीय कार्य किया है।

24 घंटे के अन्दर मिल रहा ऋण

अध्यक्ष ने कहा कि बैंक आज अपने अंशधारकों को मुख्यालय सहित किसी भी शाखा पर फार्म जमा करने के 24 घंटे के अन्दर उनके ऋण की राशि का भुगतान कर रहा हैI बैंक अपने सीमित संसाधनों के बीच अपने अंशधारकों को अच्छी सेवा देने तथा उनको सन्तुष्ट करने के लिए प्रतिबद्ध है I बैठक में उपस्थित डेलिगेट अशोक कुमार सिंह, विजय कुमार मिश्रा, उमरअली खान तथा अमर नाथ शर्मा ने बैंक, बैंक कर्मचारियों, अंशधारकों तथा ग्राहकों के हित में अपने-अपने सुझाव दिये। बैठक में बैंक के उपाध्यक्ष अनुराग खरे तथा निदेशकगण उमेश कुमार गुप्ता, अनिल कुमार सिंह, अफरोज अली अंसारी, मनोज कुमार विश्वकर्मा, राजेश कुमार सिंह, पियूष कुमार गौड़, अनुज कुमार, विनोद कुमार शर्मा, मुकेश प्रधान तथा कल्याण कोष समिति के सदस्य संदीप कुमार सिंह उपस्थित रहे I

Edited By: Pradeep Srivastava