गोरखपुर, जेएनएन। गोरखपुर के शाहपुर क्षेत्र के बिछिया मोहल्ला की तरन्नुम बानो को उनके पति ने एक बार में तीन तलाक कहकर छोड़ दिया है। आरोप है कि दहेज की मांग पूरी न होने पर पति ने उन्हें तलाक दिया है। पीडि़ता ने सीओ गोरखनाथ प्रवीण सिंह को प्रार्थना पत्र देकर पति के विरुद्ध तीन तलाक अधिनियम के तहत कार्रवाई करने की गुहार लगाई है। पुलिस इस पर विधिक राय ले रही है।

तलाक बोलकर घर से निकाला

वर्ष 2017 में तरन्नुम बानो की शादी, तिवारीपुर क्षेत्र के इलाहीबाग निवासी युवक के साथ हुई थी। आरोप है कि शादी के कुछ दिन बाद से ही ससुराल में दहेज के लिए उनका उत्पीडऩ शुरू हो गया। दहेज की मांग पूरी न होने पर 27 जुलाई को पति ने एक बार में तीन तलाक कहकर उन्हें घर से निकाल दिया। तभी से उन्होंने मायके में शरण ले रखा है।

विधिक राय ले रही है पुलिस

फरियाद लेकर सीओ के पास पहुंची महिला ने पति के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की। बता दें कि तीन तलाक अधिनियम 31 जुलाई को गजट हुआ था। तरन्नुम बानो ने 27 जुलाई को पति के तलाक देने का दावा किया है। उनका मामला नए बने तीन तलाक अधिनियम के तहत आएगा की नहीं, पुलिस इस पर विधिक राय ले रही है। सीओ ने कहा कि विधिक राय के मुताबिक कार्रवाई की जाएगी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस