गोरखपुर, जागरण संवाददाता। धूप व नमी की जुगलबंदी ने लोगों को बेचैन कर रखा है। सुबह से ही गर्मी लोगों को असहनीय लगने लगे रही है। मौसम विभाग ने पूर्वानुमान जताया है। अभी अगले तीन दिनों तक यही स्थिति रहने वाली है। आगामी 17 जुलाई से बारिश के आसार हैं।

मौसम विशेषज्ञ का कहना है क‍ि पुरवा हवाओं के साथ बंगाल की खाड़ी की ओर से आ रही नमी के बीच धूप और बादलों का संघर्ष जारी है। इसके चलते हीट इंडेक्स बढ़ा हुआ। लोगों को 34 डिग्री सेल्सियस तापमान भी 47 डिग्री सेल्सियस जैसा महसूस हो रहा है। मौसम विशेषज्ञ कैलाश पांडेय के मुताबिक आगामी 17 जुलाई से बारिश की परिस्थितियां बंगाल की खाड़ी में तैयार हो रही है।

बंगाल की खाड़ी के उत्तरी हिस्से में हवा के कम दबाव का एक क्षेत्र तैयार हो रहा है। 16 जुलाई के बाद वह उड़ीसा, छत्तीसगढ़ होते हुए 17 जुलाई तक पूर्वी उत्तर प्रदेश पहुंचेगा और गोरखपुर व उसके इर्द-गिर्द के क्षेत्रों में बादलों की गरज और बिजली की चमक के साथ बारिश हो सकती है। उस वायुमंडलीय परिस्थिति से कुछ स्थानों हल्की से मध्यम तो कुछ स्थानों मध्यम से भारी बारिश का पूर्वानुमान मौसम विशेषज्ञ जता रहे हैं।

47 डिग्री तक हो रहा गर्मी का आभास

वर्तमान में भी गोरखपुर और आसपास के क्षेत्रों में बारिश की वायुमंडलीय परिस्थितियां बनी हुई हैं, लेकिन वह अभी कमजोर स्थिति में है। इससे अभी बारिश की उम्मीद नहीं है। ऐसे में अगले दो तीन दिनों तक लोगों को गर्मी से राहत मिलने वाली नहीं है। मौसम विशेषज्ञ विशेषज्ञ के अनुसार पंजाब से लेकर दक्षिणी उत्तर प्रदेश, झारखंड, छत्तीसगढ़ होते हुए बंगाल की खाड़ी तक एक कमजोर निम्न वायुदाब क्षेत्र बना हुआ है। इसके प्रभावस्वरूप पूर्वी उत्तर प्रदेश के दक्षिण हिस्से में तो हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

गोरखपुर में हल्‍की बार‍िश की संभावना

गोरखपुर और उसके आसपास के केवल 25 प्रतिशत क्षेत्रों में बूंदाबादी से लेकर हल्की बारिश की ही संभावना बन रही है। उमस भरी गर्मी बढ़ने के लिए मौसम विशेषज्ञ हीट इंडेक्स को दोषी ठहरा रहे हैं। हीट इंडेक्स की वजह से लोगों को तापमान से दस से बारह डिग्री सेल्सियस अधिक की गर्मी का अहसास हो रहा है। हीट इंडेक्स ने न्यूनतम तापमान को 28 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंचा दिया है। ऐसे में रात भी लोगों को गर्मी से राहत नहीं मिल रही है।

Edited By: Pradeep Srivastava