संतकबीर नगर : धर्मसिंहवा थाना क्षेत्र के गौरीराई व राजेडीहा में बिना अनुमति जुलूस निकाल रहे निषाद पार्टी के आधा दर्जन वाहनों को एसडीएम मेंहदावल व सीओ ने मंगलवार की पकड़ लिया। प्रचार सामग्री उतरवाकर वाहनों को सीज कर दिया।

एसडीएम अजय कुमार त्रिपाठी ने बताया कि निषाद पार्टी के नेता व कार्यकर्ता मांगने पर भी अनुमति पत्र नहीं दिखा सके। इसलिए दो चार पहिया और चार मोटरसाइकिलों को सीज किया गया है। धर्मसिंहवा थानाध्यक्ष को आचार संहिता के उल्लंघन की धारा में मुकदमा दर्ज करने का निर्देश दिया गया है। एसडीएम ने कहा कि आचार संहिता का सख्ती से पालन कराया जा रहा है। बिना अनुमति जनसभा करने व जुलूस निकालने वाले प्रत्याशियों व उनके समर्थकों के खिलाफ कार्रवाई जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि सभी प्रत्याशी चुनाव में आदर्श आचार संहिता का पालन करें और बिना अनुमति जनसभा व जुलूस नहीं निकालें।

थानाध्यक्ष विनय कुमार पाठक ने बताया कि एसडीएम के निर्देश पर आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।

----------

फर्जी प्रमाणपत्र पर नामांकन करने का आरोप

संतकबीर नगर: एक प्रत्याशी पर पिछड़ी जाति के फर्जी प्रमाणपत्र पर नामांकन करने का आरोप लगाया है। शिकायतकर्ता ने एडीएम से जांच कर दोषी के खिलाफ उचित कार्रवाई किए जाने की मांग की है। उजरौटी कला गांव के निवासी परशुराम पुत्र मुनई ने एडीएम को दिए गए शिकायती पत्र में यह उल्लेख किया है कि आटाखुर्द गांव की एक महिला प्रत्याशी ने गलत ढंग से पिछड़ी जाति का प्रमाण पत्र जारी करा लिया है। इसी के आधार पर वह ग्राम पंचायत बाकरगंज से प्रधान पद के लिए नामांकन भी कर लिया है। एडीएम ने इस पर रिपोर्ट मंगाई। तहसीलदार खलीलाबाद ने एडीएम और रिटर्निंग आफिसर(आरओ) बघौली को दी गई रिपोर्ट में यह उल्लेख किया है कि इस महिला का जाति प्रमाण पत्र आवेदन लेखपाल सुरेश चंद्र के आइडी पर त्रुटि पूर्ण ढंग से दर्ज हो गया है। इसके कारण कांदू पिछड़ी जाति का प्रमाण पत्र जारी हो गया है। तहसीलदार ने महिला के नाम से जारी प्रमाण पत्र निरस्त किए जाने की बात कही है।

--------

Edited By: Jagran