गोरखपुर, जेएनएन। गोरखपुर और आसपास के क्षेत्रों में मंगलवार से शुरू हुई बारिश का सिलसिला गुरुवार की सुबह तक रुक-रुक कर जारी है। बारिश और इसके चलते हुए जलभराव से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। मौसम विभाग के पैमाने पर पिछले 24 घंटे में 178 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड की गई है। मौसम विज्ञानी के अनुसार बारिश का यह क्रम आठ अक्टूबर तक रुक-रुक कर जारी रहेगा। हालांकि इसकी रफ्तार में कमी आ जाएगी। हल्की से मध्यम बारिश का पूर्वानुमान मौसम विज्ञानी जता रहे हैं। लगातार बारिश के चलते तापमान में तेजी से गिरावट दर्ज की गई है। 48 घंटे में अधिकतम तापमान सात डिग्री सेल्सियस गिर गया है जबकि न्यूनतम तापमान में चार डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई है।

अगले दो दिनों तक ऐसे ही बना रहेगा मौसम

मौसम विज्ञानी कैलाश पांडेय ने बताया कि बारिश की वायुमंडलीय परिस्थितियां अभी भी बनी हुई। बंगाल की खाड़ी के मध्य में एक हवा के कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है और वहां से निकल रही एक मजबूत निम्नवायुदाब की पट्टी उड़ीसा, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश, पूर्वी उत्तर प्रदेश होते हुए मध्य उत्तर प्रदेश तक पहुंच रही है। इसके चलते ही बीते दो दिनों से बारिश हो रही है और आगे दो दिनों तक बादलों के जमे रहने और छिटपुट बीरश होते रहने के आसार हैं।

जल्द होगा ठंड का आगाज

तापमान के आंकड़ों की बात करें तो बुधवार को अधिकतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस रहा, जो बीते दिन के मुकाबले सात डिग्री सेल्सियस कम रहा। गुरुवार की सुबह न्यूनतम तापमान 22.9 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। यह बीते दो दिन में चार डिग्री गिरा है। मौसम विज्ञानी के अनुसार तापमान के गिरने का सिलसिला अब जारी रहेगा। इस बारिश के बाद ठंड का मौसम प्रभावी हो जाएगा। ओस गिरने और कोहरा पड़ने का क्रम भी शुरू हो जाएगा। मौसम विज्ञानी के अनुसार अगले दो दिन तक अधिकतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस के नीचे बने रहने का पूर्वानुमान है जबकि न्यूनतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस तक आ सकता है।

Edited By: Pragati Chand

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट